अयोध्याज्योतिष

भगवान राम की कुलदेवी ‘बड़ी देवकाली’ के मंदिर में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद

अयोध्या. अयोध्या में श्री राम मंदिर की आधारशिला रखे जाने के बाद भगवान राम की कुलदेवी ‘बड़ी देवकाली’ के यहां स्थित मंदिर में भी श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने की उम्मीद है. देवकाली मंदिर के मंहत को उम्मीद है कि राम मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को ‘बड़ी देवकाली’ मंदिर की महत्ता की भी जानकारी मिलेगी.

ऐसी मान्यता है कि बड़ी देवकाली भगवान राम की कुलदेवी थी और यह तीन देवियों महाकाली, महालक्ष्मी और महासरस्वती का संगम है. मंदिर के महंत सुनील पाठक ने कहा, ‘‘बड़ी देवकाली के मंदिर को लेकर इस इलाके में काफी श्रद्धा है. बड़ी देवकाली भगवान राम की कुलदेवी है.”

उन्होंने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा, ‘‘मैं एक अयोध्यावासी होने के नाते बहुत प्रसन्न हूं कि भगवान राम को उनका जन्म स्थान मिल गया. भगवान राम भारत की आत्मा हैं. मेरा मानना है कि जब राम मंदिर के दर्शन करने श्रद्धालु अयोध्या आयेंगे, तो वे बड़ी देवकाली मंदिर के दर्शन करने भी जरूर आयेंगे. मुझे पूरा विश्वास है कि श्रद्धालुओं को जब इस मंदिर का भगवान राम के परिवार के संबंध होने के बारे में जानकारी मिलेगी, तो वे बड़ी संख्या में यहां भी आयेंगे.”

पाठक ने मंदिर के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुये कहा, ‘‘भगवान राम के पूर्वज राजा रघु को सपने में देवी के दर्शन हुये थे. देवी ने उन्हें यज्ञ करवाने का निर्देश देते हुये कहा था कि युद्ध में उनकी विजय होगी. राजा रघु ने देवी के आदेश का पालन करते हुये यज्ञ करवाया और वह युद्ध में विजयी हुये, जिसके बाद उन्होंने यहां बड़ी देवकाली की मूर्ति स्थापित कराई.”

पाठक ने बड़ी देवकाली की महत्ता को बताते हुये कहा, ”भगवान राम के जन्म के बाद उनकी माता कौशल्या पूरे परिवार के साथ मंदिर आयी थीं. उसके बाद ऐसी परंपरा बन गयी है कि जब किसी के घर में बच्चे का जन्म होता है, तो उस परिवार के सदस्य पहले मंदिर आकर देवी के दर्शन करते हैं. बहुत से लोग कोई नया काम शुरू करने से पहले भी मंदिर में देवी के दर्शन करने आते हैं.”

उन्होंने बताया कि श्रद्धालु बहुत दूर-दराज के इलाकों से अपनी समस्याएं एवं मन्नतें लेकर देवी के मंदिर में आते हैं और जब उनकी समस्याएं दूर हो जाती है एवं मन्नतें पूरी हो जाती है, तो वे देवी को धन्यवाद कहने आते हैं. पाठक ने बताया कि कार्तिक पूर्णिमा, बसंत, शारदीय नवरात्र और रामनवमी में बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां दर्शन करने आते हैं.

हनुमानगढ़ी मंदिर में सामान्य दिनों की तरह दर्शन के लिए आये श्रद्धालु
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राम मंदिर का भूमि पूजन किये जाने के एक दिन बाद बृहस्पतिवार को हनुमानगढ़ी मंदिर में श्रद्धालुओं का सामान्य दिनों की तरह दर्शन के लिए आना शुरू हो गया . पुलिस के एक कांस्टेबल की नजर सब पर थी ताकि कोविड-19 के मद्देनजर सामाजिक दूरी का पालन सुनिश्चित हो सके.

ठंडी हवाओं और आसमान में बादल छाए रहने के साथ सुबह के समय सरयू नदी में लोग डुबकी लगाते नजर आये . उत्साहित युवा सेल्फी ले रहे थे . घाट पर पूजा अर्चना जारी थी.

हनुमानगढ़ी के आसपास की दुकानें खुल गयीं . दुकानदारों को उम्मीद है कि राम मंदिर बनने के बाद उनका कारोबार भी गति पकड़ेगा. गोरखपुर के रहने वाले पीएसी कांस्टेबल 47 वर्षीय श्रीराम मंदिर के निकट पुलिस पिकेट पर तैनात हैं . उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार को अधिक श्रद्धालु मंदिर दर्शन करने आये.

अतिविशिष्ट लोगों के बुधवार को आवागमन के मद्देनजर ठहरा हुआ सामान्य जनजीवन फिर पटरी पर लौट आया . हनुमानगढ़ी मंदिर के आसपास प्रसाद की दुकानें खुल गयीं. श्रद्धालु दर्शन से पहले पूजन सामग्री और प्रसाद लेते दिखे . पूजन सामग्री बेचने वाले अमित कुमार ने बताया कि पांच दिन बाद दुकान खोली है. शनिवार और रविवार को साप्ताहिक बंदी थी जबकि सोमवार से बुधवार तक दुकान बंद रही.

कुमार का मानना है कि राम मंदिर बनने से उन्हें कारोबार में फायदा होगा . राकेश मोदनवाल का भी ऐसा ही मानना है, जो हिन्दू देवी देवताओं की मढी हुई फोटो बेचते हैं . उन्होंने बताया कि पिछले दस दिन से आ रहे श्रद्धालु राम लला की फोटो मांग रहे हैं. कपडा व्यवसायी रवि चंद्र गुप्ता भी राम मंदिर बनने पर कारोबार बढने को लेकर आश्वस्त हैं . मिठाई दुकानदार राकेश कुमार भी ऐसी उम्मीद रखते हैं. उनका कहना है कि मंदिर बनने का सकारात्मक असर उनके काम धंधे पर पड़ेगा.

एक अन्य मिठाई विक्रेता अरविन्द ने बताया कि वह तीन से चार पीढियों से ये दुकान चला रहे हैं. भव्य राम मंदिर का निर्माण होने पर निश्चित तौर पर उन्हें मदद मिलेगी और कोविड-19 की वजह से जो चुनौतियां इस समय पेश आयी हैं, उनसे भी निजात मिलेगी.


Join
Facebook
Page

Follow
Twitter
Account

Follow
Linkedin
Account

Subscribe
YouTube
Channel

View
E-Paper
Edition

Join
Whatsapp
Group

22 Sep 2020, 7:37 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

5,640,441 Total
90,021 Deaths
4,581,746 Recovered

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close