व्यापार

सेंसेक्स, निफ्टी लगातार दूसरे दिन नयी ऊंचाई पर

मुंबई. सेंसेक्स और निफ्टी लगातार दूसरे दिन मंगलवार को नयी ऊंचाई पर बंद हुए. एचडीएफसी, आईटीसी, एक्सिस बैंक और टाटा कंसल्टेंसी र्सिवसेज (टीसीएस) जैसी बड़ी कंपनियों के शेयरों में तेजी के बीच बाजार बढ़त के साथ बंद हुए. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 41,994.26 अंक के दिन में कारोबार के अपने सर्वकालिक उच्च स्तर तक गया. अंत में यह 92.94 अंक या 0.22 प्रतिशत की बढ़त के साथ 41,952.63 अंक पर बंद हुआ. यह सेंसेक्स का नया उच्चस्तर है.

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी कारोबार के दौरान एक समय अब तक के उच्चतम स्तर 12,374.25 पर पहुंच गया था. अंत में निफ्टी 32.75 अंक या 0.27 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,362.30 अंक पर बंद हुआ. यह इसका नया उच्चस्तर है. जियोजीत फाइनेंशियल र्सिवसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़ों को नजरअंदाज करते हुए आगे बढ़ रहा है. बजट और कंपनियों के तीसरी तिमाही के नतीजों से बाजार को काफी उम्मीद है.’’

सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति दिसंबर में बढ़कर 7.35 प्रतिशत पर पहुंच गई, जो इसका पांच साल का उच्चस्तर है. यह आंकड़ा बाजार बंद होने के बाद आया था. इसी तरह मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार दिसंबर में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति बढ़कर 2.59 प्रतिशत पर पहुंच गई है.

सेंसेक्स की कंपनियों में हीरो मोटोकॉर्प का शेयर सबसे अधिक 2.15 प्रतिशत चढ़ गया. आईटीसी में 1.74 प्रतिशत, एनटीपीसी में 1.48 प्रतिशत, मंिहद्रा एंड मंिहद्रा में 1.43 प्रतिशत, टेक मंिहद्रा में 1.42 प्रतिशत, एक्सिस बैंक में 1.38 प्रतिशत, नेस्ले में 1.32 प्रतिशत, एचडीएफसी में 1.1 प्रतिशत और टीसीएस में 0.74 प्रतिशत का लाभ रहा.

वहीं दूसरी ओर इंडसइंड बैंक का शेयर सबसे अधिक 3.85 प्रतिशत टूटा. बैंक का दिसंबर तिमाही का शुद्ध लाभ 32 प्रतिशत बढ़कर 1,300.20 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज, कोटक बैंक, एसबीआई, एलएंडटी, ओएनजीसी और आईसीआईसीआई बैंक के शेयर भी नुकसान में बंद हुए. बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप 0.75 प्रतिशत तक के लाभ में रहे.

चीन के शंघाई, हांगकांग के हैंग सेंग, जापान के निक्की और दक्षिण कोरिया के कॉस्पी में मिलाजुला रुख रहा. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार नीचे थे. ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.16 प्रतिशत की बढ़त के साथ 64.30 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया एक पैसे के नुकसान से 70.87 प्रति डॉलर पर बंद हुआ.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close