व्यापार

भारतीय कंपनियों ने विदेशी बाजारों से अक्टूबर में 3.41 अरब डॉलर जुटाये

नयी दिल्ली. भारतीय कंपनियों द्वारा विदेशी बाजारों से रिण के तौर पर जुटायी गई रकम अक्टूबर 2019 में दोगुनी होकर…

Read More »

भारत आर्थिक सुस्ती के चंगुल में, सभी शक्तियां पीएमओ के अधीन होना अर्थव्यवस्था के लिये ठीक नहीं: राजन

नयी दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था इस समय ‘‘सुस्ती’’ के…

Read More »

वैश्विक संकेतों, वृहद आर्थिक आंकड़ों से तय होगी शेयर बाजार की चाल

नयी दिल्ली. अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता की प्रगति, अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के ब्याज दर पर निर्णय तथा औद्योगिक उत्पादन…

Read More »

अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये आयकर दरों में सुधार, अन्य उपायों पर विचार: सीतारमण

नयी दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि सरकार सुस्त पड़ रही अर्थव्यवस्था को पुन: गति…

Read More »

सरकार को अर्थव्यवस्था के लिये ठोस प्रोत्साहन पैकेज देना चाहिए: कुमार मंगलम बिड़ला

नयी दिल्ली. आदित्य बिड़ला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने शुक्रवार को कहा कि सरकार को अर्थव्यवस्था के लिये…

Read More »

प्याज के भाव 165 रुपये किलो तक, आयातित प्याज की आवक की शुरुआत 20 जनवरी तक संभव

नयी दिल्ली. प्याज के भावमें नरमी का कोई संकेत नहीं दिख रहा है. स आयात के जरिये बाजार में प्याज…

Read More »

सेंसेक्स 334 अंक टूटा, निफ्टी भी 12,000 अंक के नीचे पहुंचा

मुंबई. बैंक तथा वाहन कंपनियों के शेयरों में भारी गिरावट से बीएसई सेंसेक्स शुक्रवार को 334 अंक लुढ़क गया. नेशनल…

Read More »

नाकाबिल लोगों के हाथ में होने से भारत की अर्थव्यवस्था भारी संकट में है: चिदंबरम

रांची. पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने शुक्रवार को यहां केन्द्र की भाजपा सरकार को नाकाबिल बताते हुए कहा कि…

Read More »

सरकार से राहत नहीं मिलने पर बंद हो जाएगी वोडोफोन-आइडिया : बिड़ला

नयी दिल्ली. वोडाफोन आइडिया ने कहा है कि उच्चतम न्यायालय के हाल के निर्णय के बाद उसके सामने खड़ी पुरानी…

Read More »

कॉरपोरेट कर कटौती को संसद की मंजूरी, सॉफ्टवेयर विकास, खनन 15 प्रतिशत की घटी दर के पात्र नहीं

नयी दिल्ली. संसद ने बृहस्पतिवार को कराधान विधि संशोधन विधेयक 2019 को मंजूरी दे दी, जिसमें कंपनियों के लिए कॉरपोरेट…

Read More »
Back to top button
Close