कोरोना वायरसदेश

कोरोना संकट में लोगों को राहत देने के लिए ‘न्याय’ योजना लागू करें प्रधानमंत्री: कांग्रेस

नयी दिल्ली. कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि देश में कोरोना वायरस के संकट के कारण किसानों , मजदूरों और गरीबों के सामने पैदा हुई मुश्किल को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राहुल गांधी द्वारा पेश की की गई ‘न्यूनतम आय गारंटी योजना’ (न्याय) लागू करके लोगों के खातों में तत्काल 7,500 रुपये की राशि भेजनी चाहिए.

दरअसल, ठीक एक साल पहले, पिछले लोकसभा चुनाव के समय तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 25 मार्च को ‘न्याय’ का वादा किया था. इसके तहत देश के करीब पांच करोड़ गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपये देने का वादा किया गया था.
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री के राष्ट्र के नाम संबोधन का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया,‘‘आदरणीय मोदी जी, देश तो लॉकडाउन का हर आग्रह मानेगा.

पर आपने कोरोना की महामारी को रोकने के लिए क्या किया? स्वास्थ्यर्किमयों की सुरक्षा कैसे होगी? कोरोना से पैदा हुए रोजÞी रोटी के महासंकट का क्या हल किया? गरीब, मजÞदूर, किसान, दुकानदार, दिहाड़ीदार के 21 दिन कैसे कटेंगे?’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘ मोदी जी, कोरोना संकट से लड़ने के लिए डॉक्टर-नर्स-स्वास्थ्य र्किमयों को लैस करना जÞरूरी है पर उनके लिए एन-95 मास्क, 3 प्लाई मास्क, हैज्मैट सूट उपलब्ध क्यों नही है ? देश को मार्च में ही 7.25 लाख बॉडी सूट, 60 लाख एन-95 मास्क, 1 करोड़ 3 प्लाई मास्क की जÞरूरत है. ये कब मिलेंगे?’’

सुरजेवाला ने यह भी पूछा, ‘‘कोरोना वायस के प्रसार के 84 दिन बाद आपकी सरकार ने आज 24 मार्च को वेंटिलेटर, सांस लेने के उपकरणों व हैंड सैनिटाइजर के निर्यात पर रोक लगाई है. कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए यही आपकी तैयारी है? अब जागे तो क्या जागे?’’ उन्होंने कहा, ‘‘आज सर्वाधिक जÞरूरत राहुल गांधी और कांग्रेस द्वारा सुझाई गई ‘‘न्यूनतम आय योजना’’ को तत्काल लागू करने की है और यही वक्Þत की मांग भी है.

हर जन-धन खाते, प्रधानमंत्री किसान खाते व पेन्शन खाते में 7,500 रुपये तुरन्त जमा करवाएं ताकि गÞरीब लोग इन 21 दिनों में दो जून की रोटी खा सकें. जान है तो जहान है.’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘देश कोरोना वायरस से लड़ेगा भी और इसे हराएगा भी. पूरा देश आपकी सरकार की घोषणा के साथ है लेकिन उपायों से पूरी तरह निराश है.

कठिन पल नेतृत्व की अग्निपरीक्षा लेते हैं. अफÞसोस …. आपकी सरकार इसके लिए तैयार नहीं है.’’ गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश के लोगों से कोरोना वायरस की गंभीरता को समझने और घरों में रहने की अपील करते हुए मंगलवार को 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close