Home क्रिकेट हमेशा से टेस्ट क्रिकेट में छाप छोड़ना चाहता था : बुमराह

हमेशा से टेस्ट क्रिकेट में छाप छोड़ना चाहता था : बुमराह

21
0

मुंबई. अपने कैरियर की शुरूआत में सीमित ओवरों का विशेषज्ञ करार दिये गए गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने शुक्रवार को कहा कि टेस्ट क्रिकेट में भी मनचाही सफलता मिलना सपना सच होने जैसा है. बुमराह ने 12 टेस्ट में 62 विकेट ले लिये हैं.

बुमराह ने यहां एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान कहा ,‘‘ मेरे लिये टेस्ट क्रिकेट काफी महत्वपूर्ण था और मैं हमेशा टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहता था. मैं ऐसा क्रिकेटर नहीं बनना चाहता था जो टी20 और वनडे ही खेले . मैं टेस्ट क्रिकेट को काफी अहमियत देता हूं और इसमें हमेशा से छाप छोड़ना चाहता था.’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मेरा यह मानना रहा है कि मैने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है और टेस्ट में भी कर सकता हूं . अभी सफर शुरू हुआ है. सिर्फ 12 टेस्ट खेले हैं लेकिन यह सपना सच होने जैसा है.’’ बुमराह ने कहा ,‘‘ सफेद जर्सी में खेलने का अहसास ही अलग है . टीम की सफलता में योगदान देने से मुझे काफी संतोष मिलता है.’’ टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने बुमराह ने कहा ,‘‘ ज्यादा से ज्यादा टेस्ट खेलकर आत्मविश्वास बढा है और उसी की वजह से लय कायम रख सका.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here