एनसीबी का दावा- आर्यन ड्रग के नियमित उपभोक्ता, अदालत जमानत पर 20 अक्टूबर को सुनाएगी फैसला

आर्यन खान की जमानत अर्जी पर फैसले को लेकर कई फिल्मी हस्तियों ने निराशा प्रकट की

मुंबई. स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने बृहस्पतिवार को विशेष एनडीपीए अदालत में बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए दावा किया कि वह मादक पदार्थों के नियमित उपभोक्ता हैं. आर्यन खान को क्रूज शिप पर कथित तौर पर मादक पदार्थ जब्त करने के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. एनसीबी ने उन्हें तीन अक्टूबर को गिरफ्तार किया था और उन्हें कम से कम छह दिन और जेल में रहना होगा क्योंकि अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद फैसला 20 अक्टूबर के लिए सुरक्षित रख लिया.

नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकॉट्रॉपिक सब्सटेंस एक्ट (एनडीपीएस) मामलों के विशेष न्यायाधीश वीवी पाटिल की अदालत में आर्यन खान और दो अन्य – अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धामेचा- ने जमानत की याचिका दायर की है. एनसीबी का पक्ष रखने के लिए पेश अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल (एएसजी) अनिल ंिसह ने दावा किया कि ऐसे सबूत हैं जो दिखाते हैं कि आर्यन खान गत कुछ वर्षों से मादक पदार्थों के नियमित ग्राहक थे. उन्होंने इसके साथ ही खान के व्हाट्सऐप चैट के हवाले से उनके साजिश में शामिल होने का आरोप दोहराया.

आर्यन की गिरफ्तारी के बाद से एनसीबी का कहना रहा है कि उनके पास से व्यक्तिगत तौर पर कुछ भी नहीं मिला है. हालांकि, व्हाट्सऐप चैट से उनके मादक पदार्थ तस्करों से संबंध का खुलासा हुआ है. एएसजी ने आगे कहा कि क्रूज शिप पर मर्चेंट के पास से जब्त मादक पदार्थ आर्यन और मर्चेंट के लिए था. एनसीबी यह भी दावा कर रही है कि आर्यन के अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ गिरोह के सदस्यों से संबंध है.

एएसजी ने कहा कि गिरोह के सदस्यों की पहचान के लिए विदेश मंत्रालय के संपर्क में हैं. ंिसह ने एक अन्य मामले में उच्च न्यायालय के फैसले का हवाला दिया जिसमें कहा गया था कि अगर आरोपी का मादक पदार्थ तस्कर से संपर्क का संकेत मिलता है तो मादक पदार्थ की उसके पास से बरामदगी नहीं होने पर भी जमानत नहीं दी जानी चाहिए.

एनसीबी के वकील ने कहा कि नशा युवाओं को प्रभावित कर रहा है और जमानत देते वक्त लड़के के कॉलेज जाने के पक्ष पर विचार नहीं किया जाना चाहिए. वकील ने कहा कि देश का भविष्य इस पीढ़ी पर निर्भर है. एएसजी ने कहा, ‘‘यह वह आजादी नहीं है जो हमारे स्वत्रंता सेनानियों के जहन में थी. यह धरती महात्मा गांधी और बुद्ध की है.मामले की जांच शुरुआती दौर में है और इस चरण में जमानत नहीं दी जानी चाहिए.’’

आर्यन खान का पक्ष रख रहे वरिष्ठ अधिवक्ता अमित देसाई ने कहा कि एनसीबी ने खुद कहा है कि कथित तौर पर आर्यन ने अक्षित कुमार और अन्य गिरफ्तार लोगों के नाम का खुलासा किया है. एजेंसी जांच जारी रख सकती है लेकिन आर्यन के अंतरराष्ट्रीय गिरोह से संबंध का आरोप ‘‘पूरी तरह से बकवास और गलत’ है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं मानता हूं कि इस बात पर बहस नहीं हो सकती है कि पूरी दुनिया मादक पदार्थ के खिलाफ लड़ रही है.हमें अपनी आजादी मिली है और हमें इसकी रक्षा करनी चाहिए और युवा पीढ़ी को मादक पदार्थ से बचाना चाहिए.’’ आर्यन के व्हाट्सऐप चैट पर देसाई ने कहा कि आज के युवाओं का स्वयं को अभिव्यक्त करने का अलग तरीका है जो पुरानी पीढ़ी के लिए ‘यातना’ हो सकती है.

उन्होंने कहा कि उसकी भाषा अदालत में जिस तरह से बताई जा रही है उससे अलग है और यह संदेह पैदा करता है. देसाई ने कहा, ‘‘ये निजी पल है जिसकी जांच की जा रही है. आप अपनी जांच के साथ आगे बढ़ सकते हैं लेकिन इसका कोई अवैध व्यवहार, अवैध मादक पदार्थ और तस्करी से कोई लेना देना नहीं है.’’ वकील ने कहा कि आर्यन खान कुछ समय से विदेश में रह रहे थे और कई चीजें अन्य देशों के लिए ‘वैध’ हैं.

आर्यन खान की जमानत अर्जी पर फैसले को लेकर कई फिल्मी हस्तियों ने निराशा प्रकट की
फिल्म निर्देशक राहुल ढोलकिया और अभिनेत्री स्वरा भास्कर समेत कुछ फिल्मी हस्तियों ने यहां एक विशेष एनडीपीएस अदालत के फैसले पर निराशा जताई है जिसमें कहा गया है कि मुंबई में एक क्रूज जहाज से कथित रूप से मादक पदार्थ जब्त होने के मामले में अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान तथा दो अन्य की जमानत अर्जियों पर आदेश 20 अक्टूबर को सुनाया जाएगा.

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने तीन अक्टूबर को कूज जहाज पर छापा मारकर मादक पदार्थ पार्टी का भंडाफोड़ किया था और आर्यन खान (23) को सात अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया था. आर्यन इस समय आर्थर रोड जेल में बंद है. बृहस्पतिवार को जांच एजेंसी एनसीबी और बचाव पक्ष के वकीलों की व्यापक दलीलें सुनने के बाद, विशेष न्यायाधीश वी वी पाटिल ने मामले को 20 अक्टूबर के लिए सूचीबद्ध कर दिया.

आर्यन खान की जमानत अर्जी पर अदालत द्वारा फैसला अगले सप्ताह सुनाये जाने की खबर आने के बाद फिल्मकार ढोलकिया ने ट्वीट किया, ‘‘मैं अपना काम कर रहे लोगों का सम्मान और समर्थन करता हूं, लेकिन दुर्भाग्य से इस मामले में ऐसा नहीं लग रहा. आर्यन के जेल में रहने का समय बढ़ने के फैसले से निराश हूं.’’ ढोलकिया 2017 में आई फिल्म ‘रईस’ में शाहरुख के साथ काम कर चुके हैं.

भास्कर ने ट्वीट करके इस प्रक्रिया को ‘विशुद्ध उत्पीड़न’ करार दिया. फिल्मकार हंसल मेहता ने किसी का नाम लिये बगैर ट्वीट में कहा कि कई देशों में चरस/भांग का सेवन कानूनन हो सकता है, लेकिन भारत में इससे ‘उत्पीड़न’ होता है. अदालत के आज के फैसले के बाद अभिनेता रणवीर शौरी ने कहा, ‘‘माता-पिता के काम की सजा या फायदे उनके बच्चों को देना समाज की पुरानी आदत है.’’ फिल्मकार रामगोपाल वर्मा ने आर्यन खान की गिरफ्तारी को लेकर कल रात एनसीबी और राजनीतिक दलों को आड़े हाथ लिया था.

बांद्रा में शाहरुख खान के घर मन्नत से कुछ ही दूरी पर रहने वाले अभिनेता सलमान खान ने आर्यन की गिरफ्तारी के बाद अब तक दो बार शाहरुख से मुलाकात की है. अभिनेता रितिक रोशन, फिल्मकार जोया अख्तर, फराह खान, हास्य कलाकार जॉनी लीवर, अभिनेत्री रवीना टंडन, पूजा भट्ट और सुचित्रा कृष्णमूर्ति आदि ने शाहरुख खान तथा गौरी खान के साथ एकजुटता दिखाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close