Home स्वास्थ्य मानव मस्तिष्क किसी भी बीमारी का इलाज खोज सकता है : पर्रिकर

मानव मस्तिष्क किसी भी बीमारी का इलाज खोज सकता है : पर्रिकर

72
0

पणजी. लंबे समय से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को कहा कि मानव मस्तिष्क किसी भी बीमारी का इलाज खोज सकता है. उन्होंने यह संदेश सोमवार को विश्व कैंसर दिवस पर दिया.

पर्रिकर (63) अग्न्याशय संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं और फिलहाल नयी दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती हैं.

पर्रिकर ने सोमवार को ट्वीट किया,”मानव मस्तिष्क किसी भी बीमारी का तोड़ खोज सकता है.’’ गोवा के मुख्यमंत्री फरवरी 2018 से ही अग्न्याशय संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं. तब से वह दिल्ली, न्यूयॉर्क, मुंबई और गोवा के अस्पतालों में इलाज करा चुके हैं. एम्स के सूत्रों ने शनिवार को बताया कि उनकी हालत स्थिर है.

पर्रिकर ‘बहुत बीमार’ हैं और भगवान के आशीर्वाद से ही ‘जी’ रहे हैं : गोवा विस के उपाध्यक्ष
गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकल लोबो ने सोमवार को कहा कि दिल्ली के एम्स में भर्ती मनोहर पर्रिकर ‘बहुत बीमार’ हैं और भगवान के आशीर्वाद से ही ‘जी’ रहे हैं. लोबो ने पत्रकारों से कहा कि जिस दिन पर्रिकर मुख्यमंत्री के तौर पर इस्तीफा दे देंगे या ‘उन्हें कुछ हो जाएगा’ उस दिन गोवा राजनीतिक संकट में चला जाएगा.

63 वर्षीय पर्रिकर अग्नाशय की बीमारी से पीड़ित हैं. उन्हें 31 जनवरी को दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है. वह पिछले साल से दिल्ली, न्यूयॉर्क, मुंबई और गोवा के अस्पतालों में भी भर्ती हो चुके हैं.

भाजपा के वरिष्ठ नेता लोबो ने कहा, ‘‘ उन्हें जो बीमारी है उसका कोई इलाज नहीं है. मनोहर पर्रिकर के मुख्यमंत्री रहने तक कोई राजनीतिक संकट नहीं है, लेकिन जिस दिन उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी कारणों से इस्तीफा दे दिया या उन्हें कुछ हो गया, तब राजनीतिक संकट होगा. वह बहुत बीमार हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ वह भगवान के आशीर्वाद से जी रहे हैं और काम कर रहे हैं.’’ पर्रिकर गोवा में गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं जिसको गोवा फॉरवर्ड पार्टी, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी और तीन निर्दलीयों का समर्थन है. एम्स के सूत्रों ने शनिवार को बताया कि पर्रिकर की हालत स्थिर है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here