विदेश

इराकी नेता निजी तौर पर चाहते हैं अमेरिकी सेना की मौजूदगी : पोम्पिओ

वांिशगटन. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सोमवार को कहा कि इराकी नेताओं ने उन्हें निजी तौर पर बताया है कि वे अमेरिकी सेना की मौजूदगी का समर्थन करते हैं. बगदाद हवाईअड्डे पर अमेरिकी हवाई हमले में ईरान के एक शीर्ष जनरल के मारे जाने के बाद इराक की संसद ने गत सप्ताह विदेशी सेनाओं के आमंत्रण को रद्द करने के लिए वोट दिया.

हालांकि पोम्पिओ ने कहा कि उन्होंने इराक के करीब 50 नेताओं के साथ बातचीत में अलग ही बात सुनी. पोम्पिओ ने स्टैनफोर्ड यूनिर्विसटी के एक फोरम में एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘वे सार्वजनिक रूप से ऐसा नहीं करेंगे लेकिन निजी तौर पर वे सभी इस बात का स्वागत करते हैं कि अमेरिका अब भी आतंकवाद के खिलाफ अपना अभियान चलाए हुए है.’’

विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिकी बल यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि इस्लामिक स्टेट के चरमपंथी फिर न उभरे और इराकियों को संप्रभुता तथा आजादी हासिल करने का अवसर मिले जो ज्यादातर इराकी चाहते हैं. पोम्पिओ ने कहा कि उन्होंने शिया बहुल नेताओं समेत इराक में सभी पृष्ठभूमियों के नेताओं से बात की थी जिनके ईरान से धार्मिक संबंध हैं.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close