Home देश भाजपा सांसद के बेटे को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा...

भाजपा सांसद के बेटे को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया

23
0

कोलकाता. अभिनेत्री से भाजपा सांसद बनीं रूपा गांगुली के बेटे को दक्षिण कोलकाता के एक क्लब की दीवार में अपनी कार से टक्कर मारने के आरोप में शुक्रवार को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया है. यह आदेश 21 वर्षीय आकाश मुखर्जी को अलीपुर की एक अदालत में पेश किए जाने के बाद आया है.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि बृहस्पतिवार रात करीब सवा नौ बजे हुई घटना के लिए मुखर्जी को पहले हिरासत में लिया गया और बाद में उन्हें लापरवाही से वाहन चलाने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में शुक्रवार की सुबह औपचारिक तौर पर गिरफ्तार कर लिया गया.

उन्होंने बताया कि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है. अधिकारी ने बताया कि मुखर्जी के खून का नमूना ले लिया गया है ताकि यह पता लगाया जा सके कि कहीं यह शराब पीकर गाड़ी चलाने का मामला तो नहीं है. कार को भी फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. भाजपा सांसद के बेटे के इस मामले में शामिल होने की वजह से यह घटना एक राजनीतिक रंग भी ले चुकी है.

पश्चिम बंगाल के भाजपा सांसद दिलीप घोष ने शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस पर इस घटना को राजनीतिक रंग देने का आरोप लगाते हुए चेतावनी दी कि अगर पुलिस ने मुखर्जी पर किसी भी तरह के गलत आरोप लगाए तो भाजपा भी कानूनी तौर पर इस मामले में शामिल होगी. घोष ने संवाददाताओं से कहा कि यह एक दुर्घटना है और कानून अपना काम करेगा. इस मामले को राजनीतिक रंग नहीं देना चाहिए.

दरअसल घोष का बयान स्थानीय तृणमूल कांग्रेस की पार्षद अर्चना दासगुप्ता के एक बयान के बाद आया है. अर्चना ने आरोप लगाया कि मुखर्जी शराब पीकर गाड़ी चला रहे थे और इस घटना की चपेट में वहां खेल रहे बच्चे भी आ सकते थे. स्थानीय लोगों ने दावा किया कि कई लोग बाल-बाल बच गए क्योंकि कार बहुत ही ज्यादा तेज गति से जा रही थी.

उन्होंने बताया कि कार ने शहर के गोल्फ ग्रीन इलाके में रॉयल कलकत्ता गोल्फ क्लब (आरसीजीसी) की चारदीवारी पर टक्कर मारी जिससे उसका एक हिस्सा गिर गया. ड्राइवर अंदर फंस गया. हालांकि, मुखर्जी अपने पिता की मदद से कार से बाहर निकले. उनके पिता शोर सुनकर पास ही में अपने अपार्टमेंट से घटनास्थल पर पहुंचे थे.

रूपा गांगुली ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया कि कानून को अपना काम करना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘मेरे बेटे के साथ एमवाई रेजीडेंस के समीप एक दुर्घटना हुई. मैंने पुलिस से कानून के अनुसार इस मामले में कार्रवाई करने के लिए कहा. कृपया कोई पक्षपात/राजनीति नहीं. मैं अपने बेटे को प्यार करती हूं और उसका ख्याल रखूंगी लेकिन कानून को अपना काम करना चाहिए.’’

अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए राज्यसभा सदस्य ने ंिहदी में कहा, ‘‘न मैं गलत करती हूं, न मैं सहती हूं. मैं बिकाऊ नहीं हूं.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here