भाजपा को चीन की ‘घुसपैठ’ के बारे में भी बोलना चाहिए, ना कि सिर्फ पाकिस्तान के बारे में : शिवसेना

मुंबई. शिवसेना नेता संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा को भारतीय भू-भाग में चीन के ‘घुसपैठ’ के बारे में बोलना चाहिए और खुद को सिर्फ पाकिस्तान पर बोलने तक सीमित नहीं रखना चाहिए. नयी दिल्ली में संवाददाताओं से बात करते हुए राउत ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कोविड-19 से जुड़ी बैठक से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एवं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के दूर रहने के बारे में पूछे जाने पर भारतीय जनता पार्टी पर पलटवार करते हुए कहा, ‘‘भाजपा किसी भी तुच्छ मुद्दे के लिए महाराष्ट्र सकरार की आलोचना करती रहती है, जैसे कि उस पार्टी के पास कोई और काम नहीं है.’’

शिवसेना के राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा, ‘‘पार्टी (भाजपा) को भारतीय भू-भाग में चीन की घुसपैठ के बारे में बोलना चाहिए. यह कहीं अधिक महत्वपूर्ण मुद्दा है. भाजपा चुंिनदा तरीके से पाकिस्तान का जिक्र करती है, लेकिन चीन का नहीं करती.’’ उल्लेखनीय है कि मई 2020 से पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच गतिरोध बना हुआ है. एक आधिकारिक बयान में बृहस्पतिवार को कहा गया था कि दोनों देशों की सेनाओं के बीच 14वें दौर की वार्ता में कोई सफलता नहीं मिली.

इस बीच, प्रधानमंत्री के साथ बृहस्पतिवार की आॅनलाइन बैठक से ठाकरे की अनुपस्थिति के बारे में पूछे जाने पर राउत ने कहा, ‘‘एक दिन (यहां तक कि)प्रधानमंत्री भी बैठक से दूर रह सकते हैं. (अन्य) महत्वपूर्ण कार्य भी हो सकते हैं. प्रधानमंत्री के साथ बैठक में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे शामिल हुए थे, जो स्वास्थ्य से जुड़े हर विषय के प्रभारी हैं. ’’

राउत ने यह भी कहा कि वह चंद्रकांत पाटिल जैसे महाराष्ट्र भाजपा के नेताओं के लिए एक ‘‘विशेष स्वास्थ्य शिविर’’ लगाना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘शिवसेना इस तरह के शिविर आंख और कान की जांच करने के लिए लगा सकती है क्योंकि वे झूठे दावे कर रहे हैं. हम निश्चित रूप से उन्हें ठीक कर देंगे.’’

उत्तर प्रदेश और गोवा विधानसभाओं के चुनावों के लिए शिवसेना की योजना के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस के कुछ नेता गोवा चुनाव के बारे में कल मुझसे मिल रहे हैं. उत्तर प्रदेश में, हम 50 सीट पर चुनाव लड़ने की योजना बना रहे हैं.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close