Home चुनाव भारत राहुल ने किसानों से ‘‘झूठे’’ वादे करने के लिए मोदी पर निशाना...

राहुल ने किसानों से ‘‘झूठे’’ वादे करने के लिए मोदी पर निशाना साधा

18
0

बरगढ़. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर झूठे वादे करके लोगों विशेषकर किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया और कहा कि उनकी पार्टी चुनाव जीतने के बाद हमेशा अपने वादों को निभाती है.

पश्चिमी ओडिशा के बारगढ़ में पार्टी की एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमने जो कहा वो किया. हमने हमेशा अपने वादों को पूरा किया है. कांग्रेस मोदी की तरह लोगों से झूठे वादे नहीं करती है.’’ गांधी ने कहा कि चुनावी वादों को पूरा करने का उनकी पार्टी का ट्रैक रिकार्ड छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में देखा जा सकता है जहां पार्टी हाल में सत्ता में आई है.

उन्होंने कहा कि इन राज्यों में पार्टी की सरकारें बनते ही किसानों का कर्जा तुरन्त माफ किया गया और छत्तीसगढ़ में धान के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को बढ़ाकर 2,500 रुपये प्रति ंिक्वटल किया गया. गांधी ने कहा, ‘‘हम इन राज्यों के किसानों को एक संदेश देना चाहते थे कि वे अकेले नहीं है और कांग्रेस उनके साथ है. यही संदेश हम ओडिशा के किसानों को दे रहे है.’’ चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होने के बाद गांधी की ओडिशा की यह पहली यात्रा है.

गांधी ने कहा कि कांग्रेस विचारधारा की लड़ाई लड़ रही है और उनकी पार्टी देश को एकजुट करने का अपनी तरफ से पूरा प्रयास कर रही है जबकि मोदी ‘‘विभाजनकारी नीति’’ अपना रहे है. उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘कांग्रेस सभी जातियों,संप्रदायों, प्रांतों और भाषाओं को जोड़ने की प्रक्रिया में है जबकि मोदी जाति, संप्रदाय और धर्म के नाम पर विभाजनकारी नीति अपना रहे है और नफरत फैलाने का प्रयास कर रहे है.’’

उन्होंने दावा किया कि देश में किसानों की आत्महत्या के मामले प्रतिदिन सामने आ रहे हैं क्योंकि मोदी सरकार उनकी परेशानियों को दूर करने के अपने वादे को पूरा करने में विफल रही है.

गांधी ने कहा, ‘‘देश में किसानों के आत्महत्या के मामले प्रतिदिन सामने आ रहे है क्योंकि मोदी सरकार ने अपने वादों को पूरा नहीं किया है. किसानों के कल्याण के बारे में लम्बे-लम्बे दावे किये गये थे. लेकिन न तो उनका कर्जा माफ किया गया और न ही धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की गई.’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री ने वादा किया था कि उनकी सरकार सालाना कम से कम दो करोड़ नौकरियों का सृजन करेगी, कालाधन विदेशों से वापस लायेगी और हर व्यक्ति के बैंक खाते में 15 लाख रुपये जमा कराये जायेगे, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ.

उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार ने 15-20 उद्योगपतियों का 3.5 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ करने का फैसला किया लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कृषि कर्ज माफी के अनुरोध को खारिज कर दिया.

बारगढ़ को ‘‘धान का कटोरा’’ बताते हुए कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि इस जिले में किसान आत्महत्या कर रहे है क्योंकि भाजपा के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार और राज्य की बीजद सरकार किसानों की समस्याओं को दूर करने में नाकाम साबित रही है. कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने किसानों और आदिवासियों की जमीन को छीनकर उद्योगपतियों को देने का प्रयास किया.

उन्होंने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर सरकार पर फिर निशाना साधा और कहा कि सरकार ने 30 हजार करोड़ रुपये उद्योगपति अनिल अंबानी की जेब में डाल दिये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here