Home देश ‘अंडरवियर’ बयान पर सपा नेता आजम खान के खिलाफ एफआईआर

‘अंडरवियर’ बयान पर सपा नेता आजम खान के खिलाफ एफआईआर

23
0

लखनऊ/नयी दिल्ली. उत्तर प्रदेश के रामपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से सपा-बसपा गठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी आजम खान के एक तथाकथित विवादित बयान को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई है. रामपुर के जिलाधिकारी आजेन्य कुमार ंिसह ने सोमवार को पीटीआई भाषा से कहा, ” आजम खान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 509 (किसी स्त्री की मर्यादा का अनादर करने के आशय से कोई अश्लीलशब्द कहना या हावभाव प्रकट करना) और कुछ अन्य धाराओं में मामला दर्ज कराया गया है.”

आजम के इस विवादित बयान को उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा की घटिया सोच बताया है जबकि भाजपा प्रत्याशी जयाप्रदा ने कहा कि आजम खान ने लक्ष्मणरेखा पार कर ली है और अब वह :आजम: उनके भाई नहीं है.

आरोप है कि सपा नेता और राज्य के पूर्व मंत्री खान ने रविवार को अपने खिलाफ भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही अभिनेत्री और पूर्व सांसद जयाप्रदा के खिलाफ वह ‘अमर्यादित’ बयान दिया. सोसल मीडिया पर वायरल सामग्री के अनुसार खान ने अपनी चुनाव रैली में कहा था, ” रामपुर वालों, उत्तर प्रदेश वालों, हिन्दुस्तान वालों, उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लग गये. मैं 17 दिनों में पहचान गया कि इनके नीचे का जो अंडरवियर है वह खाकी रंग का है.”

खान के भाषण का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया. हालांकि आजम ने एक दिन बाद सफाई देते हुये कहा कि उन्होंने अपने भाषण में किसी का नाम नहीं लिया, और अगर किसी का नाम लिया हो तो वह चुनाव नहीं लड़ेगें. उन्होंने कहा कि ” मैने किसी का नाम नहीं लिया, मैने किसी की नाखूबी बताई, न बुराई बताई.”

उन्होंने कहा कि ” अगर कोई साहब साबित कर दे कि मैने किसी का नाम लिया, नाम लेकर किसी की तौहीन की तो मैं चुनाव से हट जाऊंगा.” उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजम खान के विवादित बयान की ंिनदा की है. उन्होंने कहा कि ”आजम का यह बयान समाजवादी पार्टी की घटिया सोच को दर्शाता है.”

भाजपा प्रत्याशी जयाप्रदा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ”लक्ष्मण रेखा क्रास कर गये, अब मेरे लिये कोई:आजम:भाई नहीं है. भाई मान के सब कुछ सहने का काम किया था अब बर्दाश्त खत्म हो गया. जनता जो है वह बतायेगी, लोग महिलाओं को पूजते है, यह आदमी क्या कर रहा है? इसको चुनाव लड़ने का अधिकार है. मैं चुनाव आयोग से अपील करती हूं कि इनको चुनाव लड़ने की योग्यता खत्म हो जाए.”

उन्होंने कहा कि”मैं अखिलेश यादव को बोलती हूं कि ऐसे नेता को आप चुनाव लड़ा रहे हो, लानत है, उसे निष्कासित करना चाहिये.”

आजम का बयान निंदनीय, करवाई करें चुनाव आयोग और अखिलेश: कांग्रेस
कांग्रेस ने रामपुर से भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा के खिलाफ समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान की आपत्तिजनक टिप्पणी की ंिनदा करते हुए सोमवार को कहा इस पर चुनाव आयोग और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को आजम के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु ंिसघवी ने ट्वीट कर कहा, “जया प्रदा पर आजम खान की टिप्पणी का स्तर भद्दा और तुच्छ है. ऐसे बयान एक जीवंत लोकतंत्र के लिए अपमानजनक है.”

उन्होंने कहा, ”आशा करता हूं कि चुनाव आयोग और अखिलेश यादव इसका संज्ञान लेंगे तथा कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे.” ंिसघवी ने कहा, ”निश्चित तौर पर आज़म खान का बयान ंिनदनीय है. राजनीति में उन लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जो विरोधियों की आलोचना करते हुए मर्यादित विमर्श बरकरार नहीं रख सकते हैं.”

एनसीडब्ल्यू ने आजम खान के खिलाफ चुनाव आयोग से कड़ी कार्रवाई का अनुरोध किया
अभिनेत्री और राजनेता जया प्रदा के खिलाफ समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान द्वारा आपत्तिजनक टिप्पणी किये जाने पर सख्त रुख अपनाते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने निर्वाचन आयोग से उनके खिलाफ ‘‘कड़ी कार्रवाई’’ का अनुरोध किया है.

एनसीडब्ल्यू अध्यक्ष रेखा शर्मा ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को एक पत्र लिखकर दो घटनाओं का जिक्र किया जब उन्होंने जया प्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की. जयाप्रदा उत्तर प्रदेश की रामपुर संसदीय सीट से सपा उम्मीदवार खान के खिलाफ भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ रही हैं.

रामपुर में एक चुनावी सभा के दौरान, खान ने कहा था, ‘‘रामपुर वालों, उत्तर प्रदेश वालों, ंिहदुस्तान वालों! उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लग गए. लेकिन मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का जो अंडरवियर है वह भी खाकी रंग का है.’’

एनसीडब्ल्यू ने कहा कि खान द्वारा की गई कथित टिप्पणी ‘‘आपत्तिजनक, अनैतिक और महिलाओं की गरिमा के प्रति निरादर दर्शाने वाली है.’’ इससे पहले भी खान ने जया प्रदा के ‘घुंघरुओं’ को लेकर टिप्पणी की थी.

इन दोनों मामलों को संज्ञान में लेते हुए एनसीडब्ल्यू ने निर्वाचन आयोग से अनुरोध किया कि मामले की जांच करें और खान के खिलाफ उचित ‘‘सख्त कार्रवाई’’ करें. एनसीडब्ल्यू ने भी इन टिप्पणियों को लेकर खान को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here