Home देश पूर्व मुख्यमंत्री महाकाल दर्शन करते थे, वर्तमान मुख्यमंत्री ताजिये देखने जाते हैं...

पूर्व मुख्यमंत्री महाकाल दर्शन करते थे, वर्तमान मुख्यमंत्री ताजिये देखने जाते हैं : विजयवर्गीय

25
0

इंदौर. मध्यप्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस पर एक संप्रदाय विशेष के तुष्टिकरण की नीतियां अपनाने का आरोप लगाते हुए भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधा.

विजयवर्गीय ने यहां संवाददाताओं से कहा, “जब (राज्य में) भाजपा के मुख्यमंत्री थे, तो वह उज्जैन के ंिसहस्थ मेले में जाते थे. वह श्रावण सोमवार के कार्यक्रम में शामिल होते थे. वह महाकाल (उज्जैन का महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग) के दर्शन करते थे और उनकी सवारी (महाकालेश्वर की पारंपरिक शोभायात्रा) में जाते थे. वर्तमान के मुख्यमंत्री (कमलनाथ) को फुर्सत ही नहीं है. वह मोहर्रम के ताजिये देखने जाते हैं.”

भाजपा महासचिव ने यह बयान उस प्रश्न पर दिया जिसमें उनसे आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के कथित आतंकी जहीरूल शेख उर्फ जहीरूल एसके को पिछले महीने इंदौर से गिरफ्तार किये जाने को लेकर प्रतिक्रिया मांगी गयी थी. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के हत्थे चढ़ा जहीरूल पश्चिम बंगाल के बर्दवान में वर्ष 2014 के दौरान हुए बम धमाके के मामले में वांछित था.

पश्चिम बंगाल के भाजपा मामलों के प्रभारी विजयवर्गीय ने कहा, “किसी सरकार की नीति और नीयत के आधार पर इस प्रकार के आतंकी संगठनों को बढ़ावा मिलता हैं. मैं समझता हूं कि कांग्रेस की तुष्टिकरण की नीति के कारण सिमी जैसे संगठनों को भी कहीं न कहीं मदद मिलती है.”

उन्होंने वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय ंिसह को भी निशाने पर लेते हुए कहा, “दिग्विजय सिमी को तब से संरक्षण देते आये हैं, जब वह मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री थे. वह जाकिर नाइक (विवादास्पद प्रवचनकर्ता) जैसे उस व्यक्ति को शांतिदूत कहते हैं, जो अंतरराष्ट्रीय भगोड़ा है.”

विजयवर्गीय ने कहा, “वह (नाइक) धर्मांतरण कराते हैं और आतंकवादियों को संरक्षण देते हैं. लेकिन तुष्टिकरण की कांग्रेसी नीति के कारण ऐसे व्यक्ति भी दिग्विजय को शांतिदूत दिखायी देते हैं. इसी बात का परिणाम है कि सिमी जैसे संगठन मध्यप्रदेश में बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं.”

भाजपा महासचिव ने कांग्रेस पर यह तीखा हमला तब किया है, जब सियासी आलोचकों के एक खेमे का मत है कि मध्यप्रदेश में कमलनाथ की अगुवाई वाली सरकार “नरम ंिहदुत्व” की राह पर आगे बढ़ रही है.

विजयवर्गीय ने दावा किया कि उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के विकास और विस्तार के लिये कमलनाथ सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को केंद्र सरकार की निधि से अमली जामा पहनाया जा रहा है. भाजपा महासचिव ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्जैन, बनारस और इलाहाबाद जैसे धार्मिक शहरों के विकास की योजना बनायी है. उज्जैन के लिये 300 करोड़ रुपये की लागत वाली योजना तब बनायी गयी थी, जब मैं मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री था. इस योजना के लिये केंद्र सरकार से पैसा अब आ रहा है.” कमलनाथ, इंदौर में मेट्रो रेल परियोजना के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होने 14 सितंबर को इंदौर आने वाले हैं.

मुख्यमंत्री के दौरे से दो दिन पहले विजयवर्गीय ने कहा, “अब कमलनाथ भले ही मेट्रो रेल परियोजना के निर्माण कार्य का उद्घाटन कर लें. लेकिन सारा मध्यप्रदेश जानता है कि यह परियोजना भाजपा और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ंिसह चौहान की देन है. इंदौर में इस परियोजना का खाका तब तैयार किया गया था, जब मैं मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री था.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here