सरकार ने राकेश झुनझुनवाला सम​र्थित आकाश एयर को भारत में परिचालन की मंजूरी दी

नयी दिल्ली. नागर विमानन मंत्रालय ने राकेश झुनझुनवाला सर्मिथत नयी एयरलाइन ‘आकाश एयर’ के भारत में परिचालन के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) दे दिया है. कंपनी के एक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी. होंिल्डग कंपनी, एसएनवी एविएशन प्राइवेट लिमिटेड ने कहा कि नयी एयरलाइन का लक्ष्य वर्ष 2022 की र्गिमयों तक परिचालन शुरू करने का है.

आकाश एयर को दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला और जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दूबे का समर्थन प्राप्त है. बयान में आकाश एयर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी- दूबे के हवाले से कहा गया है, ‘‘हम नागर विमानन मंत्रालय द्वारा दिये गये समर्थन और एनओसी को लेकर बेहद खुश और आभारी हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम आकाश एयर को सफलतापूर्वक शुरू करने के लिए आवश्यक सभी नियमों के अनुपालनों को लेकर नियामकीय प्राधिकरणों के साथ काम करना जारी रखेंगे.’’ आकाश एयर के निदेशक मंडल में इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष भी हैं.

एयरलाइन की योजना अगले चार वर्षों में लगभग 70 विमानों के परिचालन की है. एयरबस के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी क्रिश्चियन शेरेर ने पिछले हफ्ते पीटीआई-भाषा को बताया कि एयरबस एक विमान खरीद सौदे के लिए आकाश के साथ बातचीत कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अक्टूबर को भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में बहुत आशावादी दृष्टिकोण रखने वाले झुनझुनवाला से मुलाकात की थी.

मोदी ने ट्वीट किया था, ‘‘अपने आप में अनोखे राकेश झुनझुनवाला से मिलकर खुशी हुई… जीवंत, व्यावहारिक और भारत को लेकर बहुत आशावादी.’’ आठ अक्टूबर को ‘इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2021’ में प्रधानमंत्री के साथ उनकी मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर, झुनझुनवाला ने ज्यादा कुछ बताए बिना कहा था कि उन्होंने अर्थव्यवस्था के बारे में बात की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close