Home देश कोविंद जी को हर जाति के लोगों ने चुना है, उनका...

कोविंद जी को हर जाति के लोगों ने चुना है, उनका सम्मान करते हैं: कांग्रेस

31
0

नयी दिल्ली. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से राष्ट्रपति रामनाथ कोंिवद के शीर्ष संवैधानिक पद पर निर्वाचन को लेकर की गई एक टिप्पणी पर भाजपा के हमले की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि कोंिवद को सभी जातियों के लोगों ने चुना है. पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम समझते हैं कि कोंिवद जी को हर जाति के लोगों ने चुना है, उनको राष्ट्रपति बनाया है. हम उनका आदर करते हैं.’’ इससे पहले गहलोत के बयान को लेकर भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने संवाददाताओं से कहा,‘‘यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत जो स्वयं एक संवैधानिक पद पर हैं, उन्होंने राष्ट्रपति के खिलाफ टिप्पणी की है. राष्ट्रपति संविधान का संरक्षक होता है.’’

राव ने कहा, ‘‘हम चुनाव आयोग से अनुरोध करते हैं कि वह राष्ट्रपति के खिलाफ गहलोत के बयान पर स्वत: संज्ञान लें.’’ उन्होंने कहा कि गहलोत को माफी मांगनी चाहिए दरअसल, गहलोत ने बुधवार को एक आलेख का हवाला देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2017 में गुजरात के विधानसभा चुनाव को देखते हुए जातीय समीकरण साधने के लिए रामनाथ कोंिवद को राष्ट्रपति बनाया. हालांकि इस टिप्प्णी पर विवाद होने पर गहलोत ने कुछ घंटे बाद कहा कि उनकी टिप्प्णी को ‘गलत तरीके से पेश किया गया है.’ हालांकि इस टिप्पणी को लेकर विवाद होने पर गहलोत ने कुछ घंटे बाद कहा कि उनके बयान को ‘गलत तरीके से पेश किया गया है.’’

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से ‘पिछड़ी जाति’ को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधे जाने पर सिब्बल ने कहा, ‘‘ किसने कही है ये बात, प्रधानमंत्री जी ने कही होगी, हमें तो याद नहीं. जो दलितों की ंिलचिग कर सकते हैं औरÞ प्रधानमंत्री जी उस पर कार्यवाही नहीं करते, तो दलितों के खिलाफ कौन है? ये तो सारी जनता जानती है.’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ‘सारे मोदी चोर हैं’ वाले कथित बयान को लेकर भाजपा के हमले के बारे में पूछे जाने पर सिब्बल ने कहा, ‘‘ सिर्फ उनके बारे में कहा गया है जो मोदी जी के खास दोस्त हैं. पूरे समाज को कैसे कोई कुछ कह सकता है? मोदी जी के चंद लोग हैं, जिनको बाहर जाने दिया.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here