देश

महाराष्ट्र के राज्यपाल ने भाजपा से सरकार बनाने के लिये अपनी इच्छा से अवगत कराने को कहा

मुंबई. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत ंिसह कोश्यारी ने शनिवार शाम राज्य में सबसे बड़े दल भाजपा को सरकार बनाने के लिये अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराने को कहा. इससे सरकार बनाने को लेकर पिछले 15 दिनों से चल रहे गतिरोध के खत्म होने की उम्मीद बनी है. भाजपा नेता चंद्रकांत पाटिल ने बताया कि पार्टी की कोर कमेटी रविवार को बैठक करेगी और भविष्य के कदम पर फैसला करेगी.

सूत्रों ने बताया कि इससे पहले दिन में एडवोकेट जनरल आशुतोष कुंभकोनी राजभवन में राज्यपाल कोश्यारी से मिले. उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र की 13 वीं विधानसभा का कार्यकाल शनिवार मध्यरात्रि को समाप्त हो रहा है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘हमें राज्यपाल से पत्र मिला है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारी कोर कमेटी कल बैठक करेगी और आगे के कदमों पर चर्चा करेगी.’’

राजभवन के बयान के मुताबिक, राज्यपाल ने भाजपा विधायक दल के नेता फडणवीस को सरकार बनाने के लिये अपनी पार्टी की इच्छा और क्षमता से अवगत कराने को कहा है. बयान में कहा गया, ‘‘महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव 21 अक्टूबर को हुआ और परिणाम की घोषणा 24 अक्टूबर को हुई. हालांकि, 15 दिन बीतने के बावजूद कोई भी एक पार्टी या गठबंधन सरकार बनाने के लिए आगे नहीं आयी है. ’’

इसमें आगे कहा गया है कि चूंकि सरकार बनाने के लिए कोई भी पार्टी आगे नहीं आयी है ऐसे में राज्यपाल ने शनिवार को सरकार के गठन की संभावना का पता लगाने का फैसला किया है और आज सबसे बड़ी पार्टी, भाजपा के निर्वाचित सदस्यों के नेता को इच्छा और क्षमता से अवगत कराने को कहा है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिवसेना ने 288 सदस्यीय विधानसभा की 161 सीटों पर जीत दर्ज की है लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर खींतचान की वजह से अबतक सरकार का गठन नहीं हुआ है.

फडणवीस ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था और राज्यपाल ने उन्हें कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहने को कहा. कांग्रेस के 44 में से 35 विधायक कांग्रेस शासन वाले राजस्थान में है. पार्टी के एक विधायक ने पहचान उजागर नहीं करने का अनुरोध करते हुए पीटीआई-भाषा को बताया कि जल्द ही और विधायकों के आने की संभावना है. उन्होंने बताया कि एआईसीसी महासचिव मल्लिकार्जुन खड़गे और महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट रविवार को जयपुर में उनसे मिलेंगे.

राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने अगले सप्ताह पार्टी के विधायकों की बैठक बुलायी है. पार्टी के एक सूत्र ने इस बारे में बताया. उन्होंने बताया, ‘‘विधायक सोमवार को मुंबई आएंगे. बैठक एक दिन बाद हो सकती है’’ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने शनिवार को साफ कर दिया कि जनता ने भाजपा-शिवसेना को स्थायी सरकार बनाने का जनादेश दिया है.

महाराष्ट्र में सरकार गठन : शिवसेना ने राज्यपाल के फैसले का स्वागत किया
शिवसेना के नेता संजय राउत ने शनिवार को कहा कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत ंिसह कोश्यारी द्वारा भाजपा को सरकार बनाने के लिये अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराने के लिए कहना एक स्वागतयोग्य कदम है. राउत ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि यह फैसला निर्धारित प्रक्रिया के अनुरूप है. राउत ने कहा, ‘‘कम से कम राज्यपाल ने सरकार गठन के लिए संभावना तलाशने का काम शुरू कर दी है. भाजपा सबसे बड़ी पार्टी है और सबसे पहले सरकार बनाने के लिए सही दावेदार है. ’’

राज्य में 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए 21 अक्टूबर को हुए चुनाव में भाजपा ने 105 सीटें जीती जबकि बहुमत के लिए 145 सीटें चाहिए. भाजपा की सहयोगी शिवसेना के पास 56 सीटें हैं लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर दोनों दलों के बीच गतिरोध चल रहा है. उधर, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि अगर शिवसेना ने भी सदन में भाजपा के खिलाफ वोट किया तो उनकी पार्टी विकल्प के बारे में सोच सकती है.

मलिक ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा , ‘‘राज्यपाल ने देर से प्रक्रिया शुरू की . उन्हें पहले ही यह करना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘शक्ति परीक्षण हुआ तो राकांपा भाजपा के खिलाफ वोट करेगी. अगर शिवसेना ने सदन पटल पर भाजपा के खिलाफ वोट किया और सरकार गिर गयी तो राकांपा विकल्प के बारे में सोचेगी.’’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close