कोरोना वायरसदेशस्वास्थ्य

देश में लगातार छठे दिन कोविड-19 के 15 हजार से अधिक मामले सामने आये

नयी दिल्ली. महाराष्ट्र, दिल्ली और हरियाणा ऐसे उन राज्यों में से हैं जो कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए प्लाज्मा थेरेपी का इस्तेमाल करने पर जोर दे रहे हैं. उधर, देश में लगातार छठे दिन सोमवार को कोविड-19 के नये मामलों की संख्या 15 हजार से अधिक रही.

महाराष्ट्र में बिना और रियायत दिये लॉकडाउन की अवधि 31 जुलाई तक बढ़ा दी गई है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कोविड-19 के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए ‘प्लाज्मा थैरेपी- सह-परीक्षण’ परियोजना की शुरूआत की. राज्य के चिकित्सा शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने इसे दुनिया में अपनी तरह की सबसे बड़ी पहल बताया.

इस पद्धति में ऐसे लोगों के रक्त से प्लाज्मा प्राप्त किया जाता है जो इस संक्रमण से उबर चुके हैं. इसके बाद वह प्लाज्मा इलाज करा रहे रोगियों को दिया जाता है. राष्ट्रीय राजधानी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने कोविड-19 से संक्रमित गंभीर मरीजों की जान बचाने के लिए ‘प्लाज्मा बैंक’ स्थापित करने की घोषणा की है.

मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि यह बैंक दिल्ली सरकार द्वारा संचालित यकृत एवं पित्त विज्ञान संस्थान में स्थापित किया जाएगा और डॉक्टरों तथा अस्पतालों को मरीज की जरूरत को देखते हुए प्लाज्मा के लिए यहां संपर्क करना होगा.

महाराष्ट्र और दिल्ली इस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित है जहां मामलों की संख्या क्रमश: 1,69,833 और 83,077 है और मौतों की संख्या क्रमश: 7,610 और 2,623 है. महाराष्ट्र में सोमवार को लगातार चौथे दिन कोविड-19 के पांच हजार से अधिक नये मामले सामने आये है.

हरियाणा में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 13,829 है जबकि मृतकों की संख्या 223 है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार भारत में एक दिन में कोविड-19 के 19,459 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5,48,318 हो गई. वहीं, 380 और लोगों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 16,475 पर पहुंच गया.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार यह लगातार छठा दिन है जब कोरोना वायरस संक्रमण के 15 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. देश में एक जून के बाद 3,57,783 मामले सामने आ चुके हैं. मंत्रालय द्वारा अद्यतन आकंड़ों के अनुसार अभी देश में 2,10,120 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 3,21,722 लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं एक मरीज देश से बाहर चला गया है.

मंत्रालय ने कहा कि अभी तक 58.67 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार 28 जून तक 83,98,362 लोगों की जांच की गई है, जिनमें से 1,70,560 लोगों की रविवार को जांच की गई थी.मामलों में वृद्धि होने के चलते महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और मणिपुर की तरह ही नगालैंड ने भी लॉकडाउन को 30 जून से आगे विस्तार देने की घोषणा की.

वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कोविड-19 के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए ‘प्लाज्मा थैरेपी- सह-परीक्षण’ परियोजना की शुरूआत की.

राज्य के एक अधिकारी ने कहा, ”इस परियोजना का नाम ‘प्लेटिना’ रखा गया है. यह दुनिया में इस तरह की सबसे बड़ी परियोजना है. इसके तहत हमारा इरादा कोरोना वायरस के 500 गंभीर मरीजों का जीवन बचाना है. यह परीक्षण मुंबई में बीएमसी द्वारा संचालित चार कॉलेज समेत 21 मेडिकल कॉलेजों में किया जाएगा.” अधिकारी ने कहा कि सभी गंभीर रोगियों को 200 मिली प्लाज्मा की दो खुराक मुफ्त दी जाएंगी.

इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 से संक्रमित गंभीर मरीजों की जान बचाने के लिए ‘प्लाज्मा बैंक’ स्थापित करने की घोषणा की है. वीडियो कांफ्रेंस के जरिये एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले दो दिन में यह बैंक काम करने लगेगा. उन्होंने बताया कि आप सरकार कोविड-19 से स्वस्थ हो चुके लोगों को प्लाज्मा दान करने के लिए प्रोत्साहित करेगी.

केजरीवाल ने कहा कि सरकार ने अब तक कोविड-19 के 29 मरीजों पर प्लाज्मा थैरेपी का क्लीनिकल परीक्षण किया है और इसके परिणाम ‘उत्साहजनक’ रहे हैं. उधर, हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘आईसीएमआर से स्वीकृति मिलने के बाद हरियाणा कोविड-19 रोगियों के उपचार के लिए अपने सभी मेडिकल कॉलेजों में प्लाज्मा पद्धति की शुरुआत करेगा.’’

अन्य राज्यों में कोरोना वायरस की जांच में तेजी लाए जाने के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को प्रदेश में कोविड-19 परीक्षण सुविधाओं में वृद्धि करने के निर्देश दिए हैं.

एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, उन्होंने कहा कि जांच क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न संस्थानों में उपलब्ध संसाधनों का पूरा उपयोग किया जाए. ट्रूनैट मशीनों तथा रैपिड एंटीजेन जांच मशीनों को पूरी क्षमता से संचालित करते हुए ज्यादा से ज्यादा जांच की जाएं. संक्रमण पर नियंत्रण के लिए निजी चिकित्सालयों में ट्रूनैट मशीनों के प्रयोग के बढ़ावा दिया जाए.

वहीं, हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले लाहौल और स्पीति में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला सोमवार को सामने आया है. बिहार निवासी एक श्रमिक (25) में संक्रमण की पुष्टि हुई है. अधिकारियों ने बताया कि सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के लिए काम करने वाले श्रमिक को केलांग क्षेत्रीय अस्पताल ले जाया गया है. इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 918 हो गई.

तमिलनाडु में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के करीब 4,000 नए मामले सामने आए जिसके बाद राज्य में कोविड-19 के मामलों का आंकड़ा 86,000 के पार चला गया. इसके अलावा पिछले 24 घंटों में इस संक्रमण से 62 और लोगों की मौतें हुई हैं जिसके बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,141 पर पहुंच गई है.

इसी तरह, आंध्र प्रदेश में सोमवार को कोविड-19 के 783 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमित लोगों की संख्या 13,891 पहुंच गई जबकि और 11 मरीजों की मौत के साथ ही मृतकों की संख्या बढ़कर 180 हो गई है.


Join
Facebook
Page

Follow
Twitter
Account

Follow
Linkedin
Account

Subscribe
YouTube
Channel

View
E-Paper
Edition

Join
Whatsapp
Group

02 Jul 2020, 4:49 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

618,394 Total
18,089 Deaths
370,414 Recovered

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
WhatsApp chat
Join Our Group whatsapp
Close