देशमुख्य समाचार

खेती को अभिनव प्रयासों से जोड़ने की जरूरत : योगी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को खेती के अभिनव प्रयासों से जोड़ने की जरूरत पर जोर देते हुए रविवार को कहा कि इस सम्बन्ध में कृषकों को जागरूक करने के लिए प्रभावी और सार्थक प्रयास किये जाने चाहिये. मुख्यमंत्री ने झांसी में आयोजित स्ट्रॉबेरी महोत्सव की डिजिटल माध्यम से यहां शुरुआत करने के बाद अपने सम्बोधन में कहा कि राज्य सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए कृतसंकल्पित है और झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का आयोजन जैसे अभिनव प्रयास इसमें सहायक हैं. उन्होंने कहा कि किसानों को खेती के अभिनव प्रयासों से जोड़ने की जरूरत है और जिलों के प्रशासन को इस सम्बन्ध में कृषकों को जागरूक करने के लिए प्रभावी और सार्थक प्रयास करने चाहिये.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान केन्द्र व राज्य सरकार निरन्तर किसानों के हित व कल्याण के लिए कार्य कर रही हैं, इस क्रम में किसान को खेत से बाजार तक विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं. उन्होंने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं के माध्यम से किसान बाजार की आवश्यकताओं की पूर्ति करने के साथ ही, आम उपभोक्ता को भी महंगाई से बचा सकते हैं और अपनी आमदनी में भी वृद्धि कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा विगत वर्ष, काफी समय से लम्बित बाण सागर ंिसचाई परियोजना को पूर्ण किया गया है. योगी ने कहा कि मध्य गंगा नहर, सरयू नहर सहित एक दर्जन ंिसचाई परियोजनाओं को तेजी से पूरा किया जा रहा है जिससे 20 लाख हेक्टेयर की अतिरिक्त ंिसचाई क्षमता सृजित होगी.

मुख्यमंत्री ने झांसी की जमीन को अपने परिश्रम और पुरुषार्थ से स्ट्रॉबेरी की खेती के अनुकूल बनाने के लिए यहां के किसानों और नागरिकों की सराहना करते हुए कहा कि बुन्देलखण्ड की धरती पर स्ट्रॉबेरी महोत्सव का आयोजन देश तथा प्रदेश के लिए नया संदेश है. उन्होंने कहा कि इससे बुन्देलखण्ड के बारे में लोगों की धारणा में सकारात्मक परिवर्तन आएगा. उन्होंने कहा कि कार्य करने की इच्छाशक्ति होने पर व्यक्ति कठिन से कठिन चुनौती का सामना कर परिणाम दे सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close