विपक्ष ने अंबानी के घर के समीप मिले वाहन के मालिक की मौत की जांच पर उठाए सवाल

मुंबई. उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटकों से लदे वाहन के कथित मालिक के मृत पाए जाने के एक दिन बाद विपक्षी भाजपा ने शनिवार को कहा कि यह हत्या का मामला प्रतीत होता है और पार्टी ने पुलिस की जांच पर सवाल उठाए.शिवसेना के नेता और राज्यसभा के सदस्य संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार की ‘‘छवि’’ और ‘‘प्रतिष्ठा’’ के लिए जरूरी है कि हीरेन मनसुख की रहस्यमय मौत से पर्दा उठे. मनसुख को उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास मिले विस्फोटकों से लदे वाहन का मालिक बताया जाता है.पुलिस ने बताया था कि करीब 45 वर्षीय मनसुख ठाणे में मुंबई-रेती बंदर रोड पर एक नदी के किनारे शुक्रवार की सुबह मृत पाए गए थे.

राउत ने संवाददाताओं से कहा कि मनसुख की रहस्यमय मौत ‘‘निराशाजनक और दुर्भाग्यपूर्ण’’ है. उनके स्कॉर्पियो वाहन का इस्तेमाल अंबानी के आवास के पास विस्फोटक रखने में किया गया था.उन्होंने कहा, ‘‘उनकी मौत का राजनीतिकरण करना और सरकार को घेरना गलत है. इस बात पर संदेह है कि मनसुख की मौत आत्महत्या थी या हत्या. मामले में वह महत्वपूर्ण गवाह थे.’’उन्होंने कहा, ‘‘गृह विभाग को जल्द से जल्द सच्चाई का पता लगाना चाहिए. यह महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार की प्रतिष्ठा और छवि के लिए महत्वपूर्ण है.’’ राकांपा के नेता और राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि मामले की जांच मुंबई पुलिस की अपराध शाखा से लेकर राज्य के आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) को सौंप दी गई है.

राउत ने कहा कि विपक्षी दल भाजपा मामले की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) को सौंपने की मांग कर रही है.उन्होंने कहा, ‘‘गृह मंत्री ने मामले को एटीएस को सौंप दिया है, जो इसे सुलझाने में सक्षम है. हमें विश्वास करना चाहिए.’’राज्य भाजपा के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने ‘‘जांच की गंभीरता’’ पर सवाल उठाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close