देश

सावरकर पर टिप्पणी के लिये माफी मांगें राहुल गांधी : फडणवीस

नागपुर/मथुरा. महाराष्ट्र विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपनी ‘मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं’ वाली टिप्पणी के लिये ‘‘बिना शर्त’’ माफी मांगनी चाहिए. संवाददाताओं से बात करते हुए फडणवीस ने यहां यह घोषणा भी की कि भाजपा प्रदेश विधानसभा के शीत सत्र की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा रविवार को दी गई चाय पार्टी का भी बहिष्कार करेगी.

फडणवीस ने कहा, ‘‘कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सावरकर पर टिप्पणी के लिये बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए. ऐसा लगता है कि उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन के भारतीय इतिहास का अध्ययन नहीं किया है.’’ दिल्ली में शनिवार को कांग्रेस की ‘भारत बचाओ रैली’ को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने अपनी ‘रेप इन इंडिया’ वाली टिप्पणी के लिये माफी मांगने की भाजपा की मांग को खारिज करते हुए कहा कि उनका नाम राहुल गांधी है, ‘‘राहुल सावरकर’’ नहीं, और वह सच बोलने के लिये कभी माफी नहीं मांगेंगे.

फडणवीस ने शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत की उस टिप्पणी के लिये शिवसेना को आड़े हाथों लिया कि उनकी पार्टी महात्मा गांधी और जवाहरलाल नेहरू का सम्मान करती है और कांग्रेस को सावरकर का अपमान नहीं करना चाहिए. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि नेहरू और गांधी का सम्मान करके शिवसेना कांग्रेस के साथ किसी तरह का व्यापार कर रही है. शिवसेना महाराष्ट्र में सत्ता के लिये बेबस है.’’

शिवसेना ने पिछले महीने प्रदेश में सरकार बनाने के लिये राकांपा और कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र विकास आघाडी (एमवीए) बनाया था. इस बीच फडणवीस ने कहा कि भाजपा एमवीए सरकार द्वारा रविवार शाम को आयोजित चाय पार्टी का बहिष्कार करेगी. यह चाय पार्टी प्रदेश की विधानसभा के शीत सत्र शुरू होने की पूर्व संध्या पर दी गई है.

उन्होंने कहा, ‘‘हम उनके साथ बैठकर चाय नहीं पी सकते जिन्होंने सावरकर का अपमान किया. इसके अलावा इस बात की भी कोई स्पष्टता नहीं है कि वहां ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार के मंत्री होंगे या नहीं और उनके पास कोई अधिकार भी होगा या नहीं.’’ प्रदेश विधानसभा का शीत सत्र सोमवार से नागपुर में शुरू होगा और 21 दिसंबर को खत्म होगा.

सावरकर जैसा बनने के लिए राहुल गांधी को कई जन्म लेने पड़ेंगे : शर्मा
सावरकर को लेकर कांग्रेस व भाजपा सहित अन्य हिन्दूवादी दलों में चल रही बहस के बीच उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने यहां कहा कि सावरकर जैसा बनने के लिए राहुल गांधी को कई जन्म लेने पड़ेंगे और तब भी वे वैसा व्यक्तित्व नहीं पा सकते क्योंकि, सावरकर जैसा समपर्ण तो वे कतई नहीं कर सकते.

वे यहां दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित जीएलए विश्वविद्यालय के आठवें दीक्षांत समारोह में भाग लेने के लिए आए थे. उनके साथ प्रदेश के ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा एवं अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे. मीडिया से मुलाकात में राहुल गांधी द्वारा सावरकर के नाम पर दिए गए वक्तव्य से उठे सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘उन्होंने (राहुल गांधी) सावरकर के बारे में सही कहा क्योंकि, सावरकर होने के लिए उन्हें कई जन्म लेने पड़ेंगे और उनके जैसा विराट व्यक्तित्व हासिल करना पड़ेगा, जो वे कर सकते.’

उन्होंने अपने जवाब को और स्पष्ट करते हुए कहा, ‘सावरकर की तुलना तो वे वास्तव में नहीं कर सकते, क्योंकि, वे सावरकर के बराबर सर्मिपत कभी नहीं हो सकते. सावरकर ने तो देश के लिए बरसों जेल काटी. अपना पूरा जीवन सर्मिपत कर दिया. वे (राहुल गांधी) उस (सावरकर की) तरफ बढ़ने से बहुत दूर हैं क्योंकि, आज पहले दिन जो बोल पाकिस्तान बोलता है, वही दूसरे दिन, हमारे देश के कुछ संबंधित नेताओं के मुंह से सुनाई देते हैं.’

उन्होंने कहा कि काग्रेस नेता ने ‘रेप इन इण्डिया’ संबंधित बयान देकर भारत को कलंकित करने का काम किया है और इसके लिए उन्हें (राहुल गांधी) माफी मांगनी ही चाहिए और अगर आप माफी नहीं मांगते हैं तो इसका सीधा मतलब है कि आप महिलाओं के साथ अन्याय कर रहे हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close