Home देश सोनिया गांधी के करीबी वरिष्ठ कांग्रेसी नेता टॉम वडक्कन भाजपा में शामिल

सोनिया गांधी के करीबी वरिष्ठ कांग्रेसी नेता टॉम वडक्कन भाजपा में शामिल

15
0

नयी दिल्ली. कांग्रेस को बृहस्पतिवार को उस समय बेहद असहज स्थिति का समना करना पड़ा जब सोनिया गांधी के करीबी पार्टी नेता टॉम वडक्कन बृहस्पतिवार को भाजपा में शामिल हो गए. वडक्कन ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद वायु सेना के हवाई हमले पर कांग्रेस पार्टी की प्रतिक्रिया को लेकर उस पर निशाना साधा.

वडक्कन ने भाजपा में शामिल होने के बाद कहा, पाकिस्तान स्थित आतंकवादी शिविर पर हुए हमले पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया दुखद थी. उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस के भीतर स्थितियों को लेकर आहत थे जहां यह स्पष्ट नहीं था कि सत्ता के केंद्र में कौन है. उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान स्थित आतंकी अड्डे पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया दुखद थी . उन्होंने जोर दिया कि उनका विकास को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच पर पूरा विश्वास है.

वडक्कन केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए. उन्होंने बाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की. वडक्कन ने कहा, ‘‘ मैं बेहद आहत हूं, इसलिये यहां हूं.’’ उन्होंने जोर दिया कि कांग्रेस सशस्त्र बलों की ईमानदारी पर सवाल उठा रही है. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में कांग्रेस की प्रतिक्रिया निराशजनक रही है.

वडक्कन ने कहा, ‘‘ मैंने भारी दिल के साथ पार्टी :कांग्रेस: छोड़ी है . अगर कोई पार्टी राष्ट्रीय हितों के खिलाफ काम करती है, तब पार्टी छोड़ने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचता है.’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व पर परोक्ष हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वे अब इस्तेमाल करो और फेंकों की नीति अपना रहे हैं.

उन्होंने कहा कि वंशवादी राजनीति कांग्रेस में चरम पर है और उन्हें प्रधानमंत्री मोदी की विकास पहल पर पूरा भरोसा है. समझा जाता है कि भाजपा लोकसभा चुनाव में वडक्कन को केरल की किसी सीट से उम्मीदवार बना सकती है.

वडक्कन के जाने का दुख, आशा है कि भाजपा में उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी: कांग्रेस
कांग्रेस ने अपने प्रवक्ता टॉम वडक्कन के भाजपा में शामिल होने पर आज दुख जाहिर किया और उम्मीद जताई कि वहां उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ”उन्हें हमारी शुभकामनाएं. उनके जाने का दुख है. आशा है कि वहां उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी.”

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद वडक्कन ने खुद टेलीविजन चैनलों पर प्रधानमंत्री पर सवाल किए थे. गौरतलब है कि कांग्रेस के प्रवक्ता वडक्कन भाजपा में शामिल हो गए हैं. वडक्कन का कहना है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद जिस तरह कांग्रेस ने सवाल खड़े किए, उससे वह बहुत नाराजÞ हैं. पार्टी का रुख देश के खिलाफ होता जा रहा था, इसलिए उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here