सेंसेक्स 750 अंक उछला, जीडीपी के सकारात्मक आंकड़ों से निवेशक उत्साहित

मुंबई. आर्थिक वृद्धि के सकारात्मक दायरे में आने के साथ बीएसई सेंसेक्स सोमवार को करीब 750 अंक उछलकर बंद हुआ. एनएसई निफ्टी में भी 232 अंक से अधिक की तेजी आयी. चालू वित्त वर्ष में शुरू की दो तिमाहियों में आर्थिक वृद्धि में गिरावट के बाद तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर में जीडीपी में वृद्धि दर्ज की गयी है.

तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स दोपहर के कारोबार में कुछ समय के लिये 50,000 के ऊपर तक चला गया था. पर अंत में यह 749.85 अंक यानी 1.53 प्रतिशत उछलकर 49,849.84 अंक पर बंद हुआ. इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 232.40 अंक यानी 1.60 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,761.55 अंक पर बंद हुआ.

सेंसेक्स के शेयरों में 29 लाभ में रहे. बेहतर प्रदर्शन करने वाले प्रमुख शेयरों में पावर ग्रिड, ओएनजीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, एशियन पेंट्स, कोटक बैंक और टाइटन शामिल हैं. इनमें 5.94 प्रतिशत की तेजी आयी. एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘सकारात्मक वैश्विक रुख और अमेरिका में रिटर्न (ट्रेजरी बिल) उच्च स्तर से नीचे आने से बाजार में जोरदार तेजी आयी. बाजार में उत्साह दिखा. सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों तथा पेंट और विशेष प्रकार के रसायन जैसे क्षेत्रों में लिवाली गतिविधियां देखी गईं.’’

शुक्रवार को जारी राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़े के अनुसार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में चालू वित्त वर्ष 2020-21 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में सालाना आधार पर 0.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई. इससे पहले लगातार दो तिमाहियों में इसमें गिरावट दर्ज की गयी थी.

विश्लेषकों के अनुसार बिजली खपत, निर्यात, माल ढुलाई, पीएमआई जैसे आंकड़ें यह संकेत देते हैं कि घरेलू अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे पुनरुद्धार के रास्ते पर लौट रही है. जियोजीत फाइनेंशियल र्सिवसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘घरेलू बाजार में माह के पहले दिन मजबूत शुरुआत हुई. जीडीपी के सकारात्मक दायरे में आने, वाहन बिक्री बढ़ने तथा बेहतर पीएमआई (परचेंिजग मैनेजर इंडेक्स) विनिर्माण आंकड़े से उम्मीद बंधी है.’’ दूरसंचार को छोड़कर सभी 19 खंडवार सूचकांक लाभ में रहे.

बांड बाजारों में कुछ स्थिरता के साथ एशिया के अन्य बाजारों में भी तेजी रही. इसके अलावा, अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज के मामले में कुछ प्रगति की खबर से भी निवेशकों की धारणा मजबूत हुई. इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.88 प्रतिशत की गिरावट के साथ 65.39 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ.

विदेशी मुद्रा बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 8 पैसे टूटकर 73.55 पर बंद हुई. बीएसई सेंसेक्स पिछले सप्ताह शुक्रवार को 1,939.32 अंक जबकि एनएसई निफ्टी 568.20 अंक लुढ़क गया था. शेयर बाजार में उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी निवेशकों ने शुद्ध आधार पर शुक्रवार को 8,295.17 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close