Home देश प्रधानमंत्री कार्यालय का रास्ता उत्तर प्रदेश से गुजरता हे, हवा महागठबंधन के...

प्रधानमंत्री कार्यालय का रास्ता उत्तर प्रदेश से गुजरता हे, हवा महागठबंधन के पक्ष में

32
0

अमरोहा (उत्तर प्रदेश). लोकसभा चुनावों के बाद सरकार बनाने में उत्तर प्रदेश के बसपा-सपा-रालोद के महागठबंधन की अहम भूमिका होगी. यह कहना है बसपा नेता दानिश अली का. साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंचने का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है. अमरोहा सीट से महागठबंधन के प्रत्याशी अली ने कहा कि हवा ‘महागठबंधन’ के पक्ष में है. लोकसभा चुनावों में राज्य के भीतर यह अच्छी जीत सुनिश्चित करेगा.अली लंबे समय तक एच. डी. देवेगौड़ा के जनता दल (सेक्यूलर) के सदस्य रहे. हाल ही में चुनाव से पहले वह बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में शामिल हुए.

पीटीआई-भाषा को दिए एक साक्षात्कार में अली ने कहा कि वह बसपा में इसलिए शामिल हुए क्योंकि वह अपनी जन्मूभूमि और कर्मभूमि पर काम करना चाहते हैं. अली ने कहा, ‘‘मैं अपने लोगों की सेवा करना चाहता था. इसलिए मैंने यह निर्णय किया. जद-एस की यहां उतनी पहुंच नहीं है इसलिए मैंने यह निर्णय (बसपा में शामिल होने) सभी की रजामंदी से किया है. इसमें मेरे शुभंिचतक और जद-एस का शीर्ष नेतृत्व भी शामिल है.’’ अली ने कहा, ‘‘मैंने उन सभी को भरोसे में लिया कि मैं संसद में जाकर अपने खुद के लोगों की सेवा करना चाहता हूं.’’

महागठबंधन और कांग्रेस के अलग-अलग चुनाव लड़ने से भाजपा-विरोधी वोट के बंटने के सवाल पर अली ने कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में इसे लेकर कोई दुविधा नहीं है. सभी लोग महागठबंधन के पक्ष में वोट देने जा रहे हैं. अली ने कहा, ‘‘ उत्तर प्रदेश में हवा महागठबंधन के पक्ष में है, इसमें कोई शक नहीं. हम 100 प्रतिशत आश्वस्त हैं कि उत्तर प्रदेश में हमारी एकतरफा जीत होगी.’’ उन्होंने कहा कि इस बात में कोई शक-शुबहा नहीं कि चुनाव बाद महागठबंधन की भूमिका अहम होगी. साउथ ब्लॉक (प्रधानमंत्री कार्यालय) का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर ही जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here