अयोध्यादेश

याहू इंडिया ने अयोध्या पर फैसला देने वाले न्यायाधीशों को ‘वर्ष की शख्सियत’ का खिताब दिया

नयी दिल्ली. उच्चतम न्यायालय के अयोध्या फैसले को याहू इंडिया की ‘‘समीक्षाधीन दशक’’ सूची में शीर्ष स्थान मिला है, जबकि यह फैसला देने वाली संविधान पीठ में शामिल पांचों न्यायाधीश ‘वर्ष की शख्सियत’ बने हैं. याहू इंडिया की वार्षिक सूची साल के शीर्ष रुझानों, कार्यक्रमों और घटनाओं के बारे में बताती है और यह उपयोगकर्ताओं की दैनिक खोज पैटर्न के साथ ही इस संपादकीय चयन भी आधारित होती है कि उन्होंने याहू पर क्या पढ़ा और शेयर किया.

‘दशक की सबसे बड़ी भारतीय घटनाएं’ नाम की सूची में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने को दूसरा स्थान मिला. इसके अलावा र्सिजकल स्ट्राइक, जीएसटी लागू करना, भाजपा का उदय, अनुच्छेद 377 के एक हिस्से को अपराध के दायरे से बाहर करना, निर्भया बलात्कार कांड और मंगलयान मिशन को भी इस सूची में जगह मिली है.

उच्चतम न्यायालय की पीठ, जिसमें न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, शरद अरंिवद बोबडे, डी वाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर शामिल हैं, को याहू इंडिया ने 2019 में ‘वर्ष की शख्सियत’ का खिताब दिया है. लोकसभा चुनावों में एक शानदार जीत हासिल करने वाले प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी 2018 की तरह ही 2019 में भी ‘सर्वाधिक सर्च किए गए शख्सियत’ हैं.

याहू इंडिया ने बताया कि क्रिकेट खिलाड़ी एम एस धोनी, अभिनेता प्रियंका चोपड़ा, ंिवग कमांडर अभिनंदन वर्धमान और अरुण जेटली इस सूची में शामिल हैं. खास बात ये है कि सर्वाधिक सर्च किए गए नेताओं में मोदी के बाद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का स्थान है, जबकि कांग्रेस नेता राहुल गांधी तीसरे स्थान पर हैं.

इस सूची के मुताबिक पुरुष सेलेब्रिटी में सलमान खान और महिला सेलेब्रिटी में सनी लियोनी निर्विवाद रूप से शीर्ष पर हैं. याहू इंडिया ने ऋतिक रोशन और सारा अली खान को स्टाइल आइकन 2019 का खिताब दिया है. भारत के सबसे धनवान व्यक्ति मुकेश अंबानी 2019 के शीर्ष कारोबारी हस्ती हैं, जबकि दूसरा स्थान गौतम अडाणी का है.

न्याका की फाल्गुनी नायर, पेटीएम के विजय शेखर शर्मा और ओयो के रितेश अग्रवाल जैसे स्टार्ट-अप संस्थापक भी इस सूची में शामिल हैं. खिलाड़ियों में एम एस धोनी को सबसे अधिक सर्च किया गया. इसके अलावा रोहित शर्मा, विराट कोहली और पी वी ंिसधु का नाम भी सूची में है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close