Home रायपुर भ्रष्टाचार के मामलों में जेल जाने के डर से विपक्षी नेता ‘महाठगबंधन’...

भ्रष्टाचार के मामलों में जेल जाने के डर से विपक्षी नेता ‘महाठगबंधन’ बना रहे : रमन सिंह

15
0

रांची/रायपुर. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन ंिसह ने लोकसभा चुनावों के मद्देनजर विपक्षी दलों में गठबंधन के चल रहे प्रयासों को एक-दूसरे को आपराधिक मामलों में बचाने की कोशिश करार दिया और कहा कि यह वास्तव में महागठबंधन नहीं बल्कि ‘महाठगबंधन’ है.

रमन ंिसह ने आज यहां भाजपा के शक्ति केंद्र सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘विपक्षी नेता अपने राज के समय किये गये भ्रष्टाचार और घोटालों के खुलने के डर से घबराकर जेल जाने से बचने के लिए महागठबंधन बनाने का प्रयास कर रहे हैं.’’ ंिसह ने कहा, ‘‘वास्तव में यह विपक्षी नेताओं का महागठबंधन नहीं है, यह तो उनका महाठगबंधन है.’’

उन्होंने कहा कि संप्रग में खलबली मची हुई है. उन्होंने कहा, ‘‘सपा, बसपा, कांग्रेस ने 2014 से पूर्व देश को लूटा है और अब ममता, चंद्रबाबू नायडू जैसे नेता भी इस ठगबंधन में शामिल होकर मोदी को चुनौती देने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि मोदी के और पांच वर्ष इन भ्रष्ट नेताओं के जेल में जाने का मार्ग पूरी तरह प्रशस्त कर देंगे.’’

रमन ंिसह ने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव धर्मयुद्ध है और इसके लिए सभी तैयार रहें. किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए.

राज्य की रघुवर दास सरकार की सराहना करते हुए ंिसह ने कहा कि उसने राज्य के विकास के लिए बहुत कार्य किया है और उसकी कुछ योजनाएं तो ऐसी हैं जिन्हें यदि उन्होंने छत्तीसगढ़ में भी लागू कर दिया होता तो वह चौथी बार भी राज्य के मुख्यमंत्री चुन लिये गये होते.

रमन ंिसह ने कई अन्य भाजपा नेताओं के साथ आज राज्य के वरिष्ठतम संपादक पद्मश्री बलबीर दत्त से भेंट की और आगामी लोकसभा चुनावों में भाजपा के संकल्प पत्र के लिए सुझाव मांगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here