Home खेल टी20 श्रृंखला गंवाने से निराश, लेकिन काफी सकारात्मक चीजें रहीं: रोहित

टी20 श्रृंखला गंवाने से निराश, लेकिन काफी सकारात्मक चीजें रहीं: रोहित

19
0

हैमिल्टन. भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में मिली 1-2 की हार से मिली निराशा के बावजूद उनकी टीम काफी सकारात्मक चीजें लेकर स्वदेश लौटेगी. भारत ने आस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक टेस्ट और वनडे द्विपक्षीय श्रृंखला अपने नाम की और इसके बाद न्यूजीलैंड की सरजमीं पर वनडे में अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज की.टी20 श्रृंखला में पहली जीत सोने पर सुहागे की तरह होती लेकिन मेजबानों ने रविवार को तीसरे और अंतिम मुकाबले में चार रन की रोमांचक जीत हासिल की. रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘निराश हैं कि लक्ष्य हासिल नहीं कर पाये लेकिन हमने अंत तक अच्छी कोशिश की. 210 रन (213 रन का लक्ष्य) हमेशा ही कठिन होना था, लेकिन हम अंत में उसके करीब पहुंच गये थे. उन्होंने नियंत्रण बनाये रखा और यार्कर गेंद डालना जारी रखा. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘फिर भी काफी चीजें सकारात्मक रहीं, हमने वनडे में अच्छी शुरूआत की और हम यहां भी अच्छा करना चाहते थे लेकिन लड़के पूरे दौरे के दौरान शानदार रहे, उन्होंने काफी मेहनत की. वे आज काफी निराश होंगे लेकिन हमने जो गलतियां की, उन गलतियों से सीख लेकर आगे बढ़ना होगा. ’’भारत अब 24 फरवरी से विजाग में दो टी20 और पांच वनडे के लिये आस्ट्रेलिया की मेजबानी करेगा. न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने कहा कि भारत के खिलाफ टी20 श्रृंखला में मिली जीत से उनकी टीम का आत्मविश्वास बढ़ेगा जो बांग्लादेश के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के लिये अच्छा होगा.

विलियमसन ने कहा, ‘‘यह बड़े स्कोर वाला शानदार मैच रहा. पहला टी20 प्रदर्शन के लिहाज से बेहतरीन रहा जबकि दूसरे टी20 से हमने काफी कुछ सीखा. दोनों टीमों ने आज रात अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन हमने थोड़ा बेहतर किया. ’’ सलामी बल्लेबाज और मैन आफ द मैच कोलिन मुनरो ने कहा कि यह मैच किसी के भी पक्ष में जा सकता था क्योंकि भारत को अंतिम ओवर में जीत के लिये महज 16 रन की जरूरत थी.

मुनरो ने कहा, ‘‘यह अंतिम मिनट तक किसी के भी पक्ष में हो सकता था. भारत के पास एक अच्छा बल्लेबाज है, एक जाता है तो दूसरा आता है. हमारे लड़कों ने अच्छे भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर अच्छा काम किया. ’’ उन्होंने 40 गेंद में 72 रन बनाये. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कुछ भी चीज अलग करने की कोशिश नहीं की, मैंने सिर्फ गेंदबाजों को दबाव में लाने की कोशिश की. ’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here