Home खेल इंडियन प्रीमियर लीग 2019 बेंगलोर ने दर्ज की अपनी दूसरी जीत, रोमांचक मुकाबले में कोलकाता को...

बेंगलोर ने दर्ज की अपनी दूसरी जीत, रोमांचक मुकाबले में कोलकाता को 10 रन से हराया

134
0

कोलकाता. आईपीएल के 35वें मुकाबले मेंशुक्रवार को ईडन गार्डन्स पररॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 10 रन से हरा दिया। बेंगलुरु से मिले 214 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम 20 ओवर में पांच विकेट पर 203 रन ही बना सकी। बेंगलुरु की कोलकाता के खिलाफ लगातार पांच हार के बाद यह पहली जीत है। कप्तान विराट कोहली के पांचवें शतक और मोईन अली की धमाकेदार पारी की मदद से रायल चैलेंजर्स बेंगलोर ने धीमी शुरुआत से उबरकर कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ आईपीएल मैच में शुक्रवार को यहां चार विकेट पर 213 रन का बड़ा स्कोर बनाया. कोहली ने 58 गेंदों पर 100 रन बनाये जिसमें नौ चौके और चार छक्के शामिल हैं. मोईन अली ने केवल 28 गेंदों पर पांच चौकों और छह छक्कों की मदद से 66 रन बनाये. इन दोनों के प्रयास से आखिरी दस ओवरों में 143 रन जुटाने में सफल रहा. इनमें से 91 रन अंतिम पांच ओवरों में बने.कोहली ने शुरू से जिम्मा संभाले रखा था लेकिन तब भी नौ ओवर के बाद स्कोर दो विकेट पर 60 रन था. मोईन के आने से रन गति में तेजी आयी और फिर पारी का परिदृश्य बदल दिया. बेंगलोर ने शुरू में पार्थिव पटेल (11) और अक्षदीप नाथ (13) के विकेट गंवाये थे. मोईन और कोहली ने तीसरे विकेट के लिये 43 गेंदों पर 90 रन की साझेदारी की. इसमें कोहली का योगदान 22 रन का था जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि मोईन शुरू से कितने हावी होकर खेले. मोईन के आउट होने के बाद कोहली ने आक्रामक तेवर अपनाये.

उन्होंने मार्कस स्टोइनिस (आठ गेंद पर नाबाद 17) के साथ चौथे विकेट के लिये 24 गेंदों पर 64 रन जोड़े. इसमें कोहली का योगदान 45 रन था. मोईन ने कुलदीप यादव पर लांग आन पर छक्का जड़कर शुरुआत की तथा इसके बाद आंद्रे रसेल और पीयूष चावला की गेंदें भी छह रन के लिये भेजी. लेकिन कुलदीप उनके विशेष निशाने पर रहे. उन्होंने इस चाइनामैन गेंदबाज के तीसरे ओवर में छक्का और चौका लगाया. दिनेश कार्तिक ने पारी का 16वां ओवर कुलदीप को सौंपा और मोईन ने इस ओवर की अंतिम गेंद पर आउट होने से पहले 27 रन बटोर दिये. इसमें तीन छक्के और दो चौके शामिल हैं. एक और लंबा शाट खेलने के प्रयास में वह कैच दे बैठे. डेथ ओवरों के लिये मंच सज चुका था और कोहली ने इसका पूरा फायदा उठाया. हैरी गुर्ने पर लगाया गया उनका छक्का वास्तव में दर्शनीय था. इसके बाद उन्होंने नारायण और प्रसिद्ध कृष्णा की गेंदें भी छह रन के लिये भेजीं आखिरी ओवर से पहले वह शतक से चार रन दूर थे. स्टोइनिस ने गुर्ने पर चौका और छक्का लगाया लेकिन उन्होंने कोहली को मौका दिया और भारतीय कप्तान ने अगली गेंद को चार रन के लिये भेजकर सैकड़ा पूरा कर दिया. पारी की आखिरी गेंद पर हालांकि वह डीप मिडविकेट पर कैच दे बैठे. रसेल ही केकेआर के लिये किफायती गेंदबाजी कर पाये. उन्होंने तीन ओवर में 17 रन देकर एक विकेट लिया. चावला से केवल एक ओवर करवाया जबकि कुलदीप ने चार ओवर में 59 रन लुटाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here