जानें कौन हैं स्नेहा दुबे जिन्होंने यूएनजीए में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को दिखाया आइना

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में एक बार फिर कश्मीर राग अलापा है। लेकिन, हर बार की तरह इस बार भी भारत ने पाकिस्तान को मोह तोड़ जवाब दिया है। भारत ने राइट टू रिप्लाय के अधिकार का प्रयोग कर पाकिस्तान को जवाब देने के लिए जूनियर महिला राजनयिक स्नेहा दुबे को चुना। स्नेहा ने बड़े ही प्रभावी ढंग से पाकिस्तान और इमरान खान को आइना दिखाया। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्न अंग थे और रहेंगे। इसमें वे क्षेत्र शामिल हैं जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में हैं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा में जोर देकर कहा कि हम पाकिस्तान से उसके अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने का आव्हान करते हैं।

संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान को मोह तोड़ जवाब देने वाली स्नेहा अब सोशल मीडिया में #SnehaDubey ट्रेड कर रही हैं। लोग इस महिला अधिकारी के बारे में जानने का लगातार प्रयास कर रहे हैं। बता दें कि स्नेहा दुबे 2012 बेच की महिला अधिकारी हैं। स्नेहा की स्कूली शिक्षा गोवा में हुई है। इसके बाद उन्होंने पुणे से उच्च शिक्षा पूरी की और फिर दिल्ली जेएनयू में स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज से एमफिल किया।

स्नेहा अपने परिवार में पहली ऐसी महिला हैं जो सरकारी सेवा में पदस्थ हैं। उनके पिता एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करते हैं, मां स्कूल में पढ़ाती हैं और उनका भारी बिजनेस मैन है। 2011 में स्नेहा ने पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी थी और पहले ही प्रयास में चुन ली गई थीं। विदेश सेवा के लिए चुने जाने के बाद स्नेहा दुबे की पहली नियुक्ति विदेश मंत्रालय में हुई। अगस्त 2014 में उन्हें भारतीय दूतावास मैड्रिड भेज दिया गया। फिलहाल स्नेहा दुबे संयुक्त राष्ट्र में फर्स्ट सेक्रेटरी हैं।

संयुक्त राष्ट्र महासभा में स्नेहा का वीडिया सामने आने के बाद सोशल मीडिया में उनकी जमकर प्रशंसा की जा रही है। अधिकांश यूजर्ज का कहना है कि स्नेहा ने काफी कम उम्र और कम अनुभव होने के बावजूद पाकिस्तान को बड़ी सटिकता से जवाब दिया।

भारत की ओर से ऐसा पहली बार नहीं है कि पाकिस्तान को जवाब देने के लिए किसी महिला अधिकारियों को मैदान में उतारा गया हो। स्नेहा दुबे से पहले एनम गंभीर और विदिशा मैत्रा यह भूमिका निभा चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close