सीरिया में सेना की बस पर हमले में 11 सैनिकों समेत 13 लोगों की मौत

दमिश्क. उत्तरी सीरिया में सोमवार को सेना की एक बस पर हुए हमले में 11 सैनिकों समेत 13 लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन सैनिक घायल हो गए. सीरिया की सरकारी मीडिया ने एक अज्ञात सैन्य अधिकारी के हवाले से प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी.
सरकारी समाचार एजेंसी साना के मुताबिक, यह हमला रक्का प्रांत में हुआ, जो कभी आतंकी संगठन ‘इस्लामिक स्टेट’ (आईएस) के कब्जे में था. हालांकि, खबर में यह नहीं बताया गया है कि बस पर घात लगाकर मशीन गन से गोलीबारी की गई या फिर इसे किसी मिसाइल या सड़क किनारे रखे बम से निशाना बनाया गया.

फिलहाल किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन संकेत मिले हैं कि इसके पीछे आईएस का हाथ हो सकता है. आईएस के आतंकवादियों ने पिछले कुछ महीनों में इस तरह के कई हमले किए हैं, जिसमें दर्जनों लोगों ने जान गंवाई है या घायल हुए हैं. एक अज्ञात सैन्य अधिकारी ने कहा कि बस केंद्रीय प्रांत से होम्स जा रही थी, तभी ‘आतंकवादी’ हमला हो गया.

आतंकवादियों ने वर्ष 2014 में इराक और सीरिया, दोनों के एक-तिहाई हिस्से में तथाकथित ‘खिलाफत’ की घोषणा की थी और इस दौरान रक्का शहर उनकी राजधानी की भूमिका में था. वर्ष 2019 में आतंकवादी सुरक्षबालों के हाथों हार गए थे, लेकिन आईएस के ‘स्लीपर सेल’ अब भी सक्रिय हैं और घातक हमले कर रहे हैं. सीरियाई अधिकारी नियमित रूप से इस तरह के हमलों के लिए इस्लामिक स्टेट को जिम्मेदार ठहराते रहे हैं. पूर्वी, उत्तरी और मध्य सीरिया में बड़े पैमाने पर आतंकवादियों के ‘स्लीपर सेल’ सक्रिय हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button