बग्गा के पिता का दावा: मेरे बेटे से डरते हैं केजरीवाल, डराने के लिए किया पंजाब पुलिस का इस्तेमाल

नयी दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के पिता प्रीतपाल ंिसह ने रविवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल उनके बेटे से डरते हैं और परिवार को डराने के लिए पंजाब पुलिस का इस्तेमाल कर रहे हैं.

पिछले कुछ दिनों में, पंजाब पुलिस द्वारा बग्गा की गिरफ्तारी और रिहाई, फिर अगले दिन मोहाली की एक अदालत द्वारा भाजपा नेता के खिलाफ जारी गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, उनके लिए बहुत कठिन समय है लेकिन वे ”सच्चाई के लिए लड़ने को तैयार” हैं.

प्रीतपाल ंिसह ने फोन पर ”पीटीआई-भाषा” से कहा, ‘जो हो रहा है अच्छे के लिए हो रहा है और भविष्य में जो होगा वह भी अच्छे के लिए होगा.’ उन्होंने कहा, ”उनके बेटे के खिलाफ शनिवार को जारी गैर-जÞमानती वारंट में उन्हें हाईकोर्ट से राहत मिली है. मेरा बेटा वकीलों से सलाह ले रहा है, हम उनकी सलाह के अनुसार आगे बढ़ेंगे.”

मोहाली अदालत से, पिछले महीने पंजाब पुलिस द्वारा उनके खिलाफ दर्ज एक मामले के संबंध में गिरफ्तारी वारंट जारी होने के कुछ घंटों बाद बग्गा ने इसे चुनौती देते हुए पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट का रुख किया था. बग्गा को राहत देते हुए अदालत ने शनिवार रात निर्देश दिए थे कि उसके खिलाफ कोई दंडात्मक कदम नहीं उठाया जाएगा.

प्रीतपाल ंिसह ने कहा, ”दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल तेंिजदर पाल से डरे हुए हैं. इस तरह की यह पहली घटना नहीं है. यह सिलसिला पिछले पांच-सात साल से चल रहा है. यहां तक ??कि आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ताओं का कहना है कि केजरीवाल को बग्गा के बारे में बुरे सपने आते हैं.” उन्होंने आरोप लगाया, ”पहले, वह (अरंिवद केजरीवाल) कुछ नहीं कर सकते थे, क्योंकि उनके अधीन पुलिस नहीं थी, लेकिन अब पंजाब पुलिस उनके (आप सरकार) अधीन है और वे इसका इस्तेमाल हमें डराने के लिए कर रहे हैं.”

उन्होंने कहा कि वे ‘ऐसी चीजों’ के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा, ”हम जानते हैं कि यह जारी रहेगा. यह चलता रहेगा और मेरे बेटे के खिलाफ और मामले दर्ज किए जाएंगे.” उन्होंने कहा, ”जÞमीनी कार्यकर्ताओं से लेकर वरिष्ठ नेताओं तक, सभी ने हमारा समर्थन किया. शनिवार को गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और भाजयुमो अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या हमसे मिले. यह हमारे लिए गर्व की बात है कि एक मुख्यमंत्री हमारे पास आए. हम सच्चाई के लिए लड़ते रहेंगे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button