भारतवंशी फाल्गुनी शाह और रिकी केज ने जीता ग्रैमी पुरस्कार, PM मोदी ने दी बधाई

लॉस एंजिलिस. मुंबई में जन्मी फाल्गुनी शाह ने अमेरिका पहुंचकर संगीत की दुनिया में करियर बनाया, जबकि अमेरिका में पैदा हुए रिकी केज वापस अपने माता-पिता की जन्मभूमि भारत लौट आए और संगीत क्षेत्र में किस्मत आजमाने लगे. लास वेगास में रविवार देर रात आयोजित 64वें ग्रैमी पुरस्कार समारोह में दोनों भारतवंशी अपनी-अपनी श्रेणी में अवॉर्ड जीतने में सफल रहे.

केज ने स्टीवर्ट कोपलैंड के साथ मिलकर तैयार ‘डिवाइन टाइड्स’ के लिए सर्वश्रेष्ठ नया एल्बम श्रेणी का ग्रैमी अवॉर्ड अपने नाम किया. यह उनके करियर का दूसरा ग्रैमी पुरस्कार था. वहीं, न्यूयॉर्क निवासी फाल्गुनी ने ‘अ कलरफुल वर्ल्ड’ के लिए सर्वश्रेष्ठ बाल एल्बम श्रेणी के ग्रैमी पुरस्कार पर कब्जा जमाया. अभी बेंगलुरु के बाहर रह रहे केज ने 2015 में  अपना पहला ग्रैमी पुरस्कार जीता था. उन्हें ‘ंिवड्स आॅफ सम्सारा’ के लिए सर्वश्रेष्ठ न्यू एज एल्बम श्रेणी का विजेता घोषित किया गया था.

उत्तरी कैरोलिना में जन्मे केज जब कोपलैंड के साथ इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को ग्रहण करते के लिए मंच पर पहुंचे, तब उन्होंने ‘नमस्ते’ कहकर दर्शकों का अभिवादन किया. इंस्टाग्रम पर कोपलैंड के साथ ली गई एक तस्वीर साझा करते हुए उन्होंने लिखा, ‘‘हमारे एल्बम ‘डिवाइन टाइड्स’ के लिए ग्रैमी अवॉर्ड जीतकर बहुत कृतज्ञ महसूस कर रहा हूं. मेरे बगल में खड़ी इस महान हस्ती-स्टीवर्ट कोपलैंड-से बेहद प्यार करता हूं. आप सभी को भी मेरा ढेर सारा प्यार! यह मेरा दूसरा और स्टीवर्ट का छठा ग्रैमी पुरस्कार है.’’ फाल्गुनी ने भी अपनी जीत के लिए ग्रैमी पुरस्कार समारोह की आयोजक ‘रिकॉर्डिंग अकेडेमी’ के प्रति आभार जताने को इंस्टाग्राम का सहारा लिया.

उन्होंने लिखा, ‘‘आज के चमत्कार को बयां करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं. ग्रैमी प्रीमियर समारोह की पहली प्रस्तुति देना और फिर ‘अ कलरफुल वर्ल्ड’ के निर्माण में योगदान देने वाले शानदार लोगों के नाम की ट्रॉफी जीतना कितने सम्मान की बात है. हम बेहद कृतज्ञ महसूस कर रहे हैं और हमारे काम को मान्यता देने के लिए रिकॉर्डिंग अकेडेमी का आभार जताते हैं.’’ फाल्गुनी साल 2000 में अमेरिका जा बसी थीं. वहां उन्हें अपने संगीत करियर में यो-यो मा, वाईक्लेफ जीन, फिलिप ग्लास, रिकी मार्टिन, ब्लूस ट्रैवलर और एआर रहमान सहित कई अन्य दिग्गज हस्तियों के साथ काम करने का मौका मिला.

64वें ग्रैमी पुरस्कार समारोह के रेड कार्पेट पर दो बार के ग्रैमी पुरस्कार विजेता एआर रहमान ने भी अपने बेटे एवं प्लेबैक गायक एआर अमीन के साथ शिरकत की. उन्होंने माइक्रोब्लॉंिगग वेबसाइट पर समारोह की कुछ तस्वीरें भी साझा कीं. भारतीय रैपर एवं गीतकार डिवाइन भी ग्रैमी अवॉर्ड समारोह में पहुंचे. उन्होंने इस कार्यक्रम के रेड कार्पेट पर पहली बार कदम रखा.

प्रधानमंत्री मोदी ने ग्रैमी पुरस्कार जीतने पर रिक्की क्रेज को बधाई दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरू में रहने वाले संगीतकार रिक्की केजÞ को ‘डिवाइन टाइड्स’ के लिए सर्वश्रेष्ठ नयी एल्बम श्रेणी में ग्रैमी पुरस्कार जीतने पर सोमवार को उन्हें बधाई दी और उनके बेहतर भविष्य की कामना की. अमेरिका में जन्मे संगीतकार ने प्रतिष्ठित ब्रिटिश रॉक बैंड ‘द पुलिस’ के ड्रमर स्टीवर्ट कोपलैंड के साथ पुरस्कार साझा किया. कोपलैंड ने एल्बम में केजÞ के साथ काम किया है. यह रिक्की केज का दूसरा ग्रैमी पुरस्कार है.

केजÞ न पुरस्कार समारोह की एक तस्वीर साझा करते हुए ट्वीटर पर लिखा, ‘‘ एल्बम ‘डिवाइन टाइड्स’ के लिए आज ग्रैमी पुरस्कार जीता. यह पुरस्कार जीतकर काफी खुश हूं. मेरे साथ खड़े शख्स स्टीवर्ट कोपलैंड को मैं बेहद प्यार करता हूं. यह मेरा दूसरा और स्टीवर्ट का छठा ग्रैमी है.’’ प्रधानमंत्री ने केज के ट्वीट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, ‘‘इस उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए बहुत बधाइयां. भावी प्रयासों के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं.’’ ग्रैमी पुरस्कार के 64वें समारोह का आयोजन रविवार रात लॉस वेगास में किया गया था. केजÞ को इससे पहले 2015 में ‘ंिवड आॅफ समसारा’ के लिए सर्वश्रेष्ठ ‘न्यू एजÞ एल्बम’ श्रेणी में ग्रैमी पुरस्कार मिला था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button