भाजपा नेता बग्गा की फिर हो सकती है गिरफ्तारी, मोहाली की अदालत ने जारी किया वारंट

चंडीगढ़. भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के नेता तेजिन्दर पाल ंिसह बग्गा पर फिर से गिरफ्तारी का खतरा मंडराने लगा है, क्योंकि मोहाली की एक अदालत ने भाजपा नेता के खिलाफ अप्रैल में दर्ज एक मामले में शनिवार को गिरफ्तारी वारंट जारी किया.
बग्गा के खिलाफ ताजा गिरफ्तारी वारंट न्यायिक मजिस्ट्रेट रवतेश इन्द्रजीत ंिसह की अदालत ने जारी किया है.

गौरतलब है कि मोहाली के एक थाने में बग्गा के खिलाफ अप्रैल में दर्ज भड़काउ भाषण, दुश्मनी फैलाने और आपराधिक धमकी के मामले में पंजाब पुलिस ने शुक्रवार की सुबह दिल्ली के जनकपुरी स्थित आवास से भाजपा नेता को गिरफ्तार किया था. पुलिस उन्हें सड़क सड़क मार्ग से पंजाब ले जा रही थी, लेकिन रास्ते में कुरुक्षेत्र में हरियाणा पुलिस ने उन्हें रोक लिया और कुछ घंटों बाद दिल्ली पुलिस बग्गा को वापस ले आयी.

राज्य की अपराध शाखा के थाने के प्रभारी अधिकारी को निर्देश देते हुए मजिस्ट्रेट ने अपने आदेश में कहा, ‘‘तेजिन्दर पाल ंिसह बग्गा, पुत्र प्रीतपाल ंिसह, पता बी-1/170, जनकपुरी, दिल्ली पर भारतीय दंड संहिता की धाराओं 153-ए, 505, 505 (2) और 506 के तहत दंडनीय अपराध का आरोप बनता है. आपको निर्देश दिया जाता है कि आप तेजिन्दर पाल ंिसह बग्गा को गिरफ्तार करें और मेरे समक्ष पेश करें.’’ मामले की अगली सुनवाई 23 मई को होनी है.

शुक्रवार को बग्गा की गिरफ्तारी और दिल्ली वापसी के पूरे घटनाक्रम के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को भाजपा नेता के पिता प्रीतपाल ंिसह की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज किया. प्रीतपाल ंिसह ने तहरीर में आरोप लगाया था कि ‘‘कुछ लोग’’ सुबह करीब आठ बजे उनके घर आए और उनके बेटे को उठा ले गए. शुक्रवार को बग्गा की गिरफ्तारी और दिल्ली वापसी के पूरे नाटकीय घटनाक्रम में पंजाब, हरियाणा और दिल्ली, तीन प्रदेशों की पुलिस शामिल रही.

गौरतलब है कि पंजाब पुलिस ने अप्रैल में भड़काऊ भाषण देने, दुश्मनी को बढ़ावा देने और आपराधिक धमकी के मामलों में बग्गा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की. मोहाली निवासी आप नेता सन्नी अहलूवालिया की शिकायत पर यह मामला दर्ज किया गया. बग्गा के 31 मार्च के वक्तव्य को लेकर एक अप्रैल को उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया. 31 मार्च को बग्गा भाजपा युवा मोर्चा के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे.

वहीं आज दिन में पंजाब सरकार ने बग्गा की गिरफ्तारी के मामले में केन्द्र को पक्ष बनाने और दिल्ली के जनकपुरी तथा हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के थानों की छह मई के सीसीटीवी का फुटेज सुरक्षित रखने का अनुरोध करते हुए पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में दो अर्जियां दी हैं. पंजाब सरकार ने आरोप लगाया है कि बग्गा के खिलाफ मोहाली में पिछले महीने दर्ज प्राथमिकी के सिलसिले में उन्हें गिरफ्तार करने पहुंची राज्य पुलिस की टीम को जनकपुरी और कुरुक्षेत्र थानों में ‘बंधक’ बनाकर रखा गया.

दिल्ली पुलिस की ओर से पेश भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल सत्यपाल जैन ने शनिवार को कहा, ‘‘अदालत द्वारा नोटिस जारी कर जवाब मांगे जाने पर उन्होंने (पंजाब सरकार) दो आवेदन दिए हैं.’’ पंजाब सरकार के दो आवेदनों में से एक में भारत सरकार और दिल्ली पुलिस के आयुक्त को पक्ष बनाने का अनुरोध किया गया है. दूसरे आवेदन में अनुरोध किया गया है कि दिल्ली के जनकपुरी थाने और हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के पीपली और सदर थानों में लगे सीसीटीवी कैमरों की छह मई की फुटेज सुरक्षित रखने का निर्देश दिया जाए.

तेजस्वी सूर्या ने बग्गा से मुलाकात की, कहा- झूठे मामले दर्ज करने की आप की रणनीति से लड़ेंगे

भाजयुमो अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने यहां शनिवार को तेंिजदर पाल ंिसह बग्गा और उनके माता-पिता से मुलाकात करने के बाद कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठे मामले दर्ज करने की आम आदमी पार्टी (आप) की रणनीति के खिलाफ लड़ाई अदालतों और सड़कों पर लड़ी जाएगी.

बग्गा की नाटकीय गिरफ्तारी और दिल्ली वापस लाए जाने के एक दिन बाद गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत तथा सूर्या सहित कई नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता से उनके जनकपुरी स्थित आवास पर मुलाकात की और पंजाब पुलिस की कार्रवाई की ंिनदा की.

बग्गा को पंजाब पुलिस ने शुक्रवार को यहां उनके घर से गिरफ्तार किया था और वह जब उन्हें पंजाब लेकर जा रही थी तो हरियाणा पुलिस ने कुरुक्षेत्र में काफिले को रोक लिया तथा फिर घंटों बाद दिल्ली पुलिस भाजपा नेता को वापस राष्ट्रीय राजधानी वापस ले आई.
बग्गा से मिलने के बाद, सावंत ने ट्वीट किया, “आज भाजयुमो के राष्ट्रीय सचिव तेंिजदर बग्गा और उनके परिवार से मुलाकात की. मैं अरंिवद केजरीवाल द्वारा सत्ता का दुरुपयोग किए जाने, पंजाब पुलिस को तेंिजदर के अपहरण का निर्देश दिए जाने की कड़ी ंिनदा करता हूं. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के तथाकथित चैंपियन अब बोलने की स्वतंत्रता को दबाने की कोशिश कर रहे हैं.”

आप प्रमुख अरंिवद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए सूर्या ने कहा, “कल कुरुक्षेत्र में ‘धर्म’ की जीत हुई, ‘अधर्म’ का नाश हुआ और आज के ‘दुर्योधन केजरीवाल’ का अहंकार खत्म हो गया.” भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के अध्यक्ष ने कहा, “अरंिवद केजरीवाल के गुंडों ने वर्दी पहनकर बग्गा को उनके घर से अगवा कर लिया और उनके पिता के साथ मारपीट की, यह सबसे दुखद बात है.” भाजपा सांसद ने कहा, ‘‘भाजपा कार्यकर्ताओं का मनोबल गिराने के लिए झूठे और फर्जी मामले दर्ज करने का यह आप का तरीका है. वे इसमें सफल नहीं होंगे. हम इसके खिलाफ अदालतों और सड़कों पर लड़ेंगे ताकि एक आम राजनीतिक कार्यकर्ता के अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button