भाजपा का आरोप, ममता राज में लोकतंत्र की हो रही ‘हत्या’

नयी दिल्ली. पश्चिम बंगाल के बीरभूम में पिछले दिनों हुई हिंसा के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आड़े हाथों लेते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को आरोप लगाया कि उनके राज में लोकतंत्र की ‘‘हत्या’’ हो रही है और वह अपनी ‘‘गलतियों को छुपाने’’ के लिए दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को विपक्ष की एकता के लिए पत्र लिख रही हैं.

ज्ञात हो कि पिछले सप्ताह बीरभूम जिले के बोगतुई गांव में बच्चों व महिलाओं समेत आठ लोगों को जला कर मार दिया गया था. आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस के एक पंचायत पदाधिकारी की हत्या का बदला लेने के लिए इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया.
इस घटना के बाद यह मुद्दा राष्ट्रीय फलक पर भी छाया हुआ है कि पश्चिम बंगाल की प्रमुख विपक्षी पार्टी होने के नाते भाजपा वहां राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग कर रही है.

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बीरभूम में आठ लोगों की हत्या दर्शाती है कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के राज में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. पात्रा ने टीवी चैनलों पर दिखाए जा रहे एक वीडियो का जिक्र किया और कहा कि तृणमूल कांग्रेस के विधायक नरेन्द्र चक्रवर्ती अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुई बदले की राजनीति की बात करते हुए देखे जा रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘उनकी जो भाषा है, वो टीएमसी का मूल विचार है.’’ ममता बनर्जी द्वारा विपक्षी एकजुटता के लिए गैर-शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखे जाने संबंधी एक सवाल पर पात्रा ने कहा कि वह हताश हो गई हैं अपनी गलतियों को छुपाने के लिए यह सब कर रही हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘उनकी नाक के नीचे निर्दोष लोगों की हत्या की जा रही है और वह दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख रही हैं. वह हताश है क्योंकि वह भाजपा को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश भी गई थी.’’ भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कलकत्ता हाईकोर्ट ने बीरभूम के पूरे मामले को सीबीआई को सौंपा है क्योंकि न्यायपालिका को भी लगता है कि न्याय बंगाल में हो नहीं रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘बंगाल आज बम और बारूद के ढेर पर बैठा है और उसे सुलगाने का काम तृणमूल के कार्यकर्ता कर रहे हैं.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button