भाजयुमो सदस्यों ने केजरीवाल के आवास पर लगे CCTV कैमरे तोड़े, AAP ने हत्या की साजिश का लगाया आरोप

नयी दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी की युवा शाखा भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने यहां विरोध-प्रदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरों और सुरक्षा अवरोधकों पर हमला किया और उन्हें क्षतिग्रस्त कर दिया. वहीं, आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया कि यह कृत्य केजरीवाल की हत्या की साजिश थी.

भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्य के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने यहां केजरीवाल के आवास पर प्रदर्शन किया और कथित तौर पर कश्मीरी पंडितों का ‘‘मजाक उड़ाने’’ के लिये उनसे माफी की मांग की. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को आरोप लगाया कि पंजाब विधानसभा चुनाव में हार के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ‘‘हत्या’’ करना चाहती है. इस बीच, दिल्ली पुलिस ने कहा कि इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

पुलिस उपायुक्त (उत्तर) सागर ंिसह कल्सी ने कहा कि आईपीसी की धारा 186 (सरकारी कर्मचारी के कार्य में बाधा डालना), धारा 188 (लोक सेवक द्वारा जारी आदेश का उल्लंघन), धारा 353 (सरकारी कर्मचारी को हमला या आपराधिक बल के जरिए कर्तव्य निर्वहन से रोकना) और सार्वजनिक संपत्ति क्षति रोकथाम अधिनियम की धारा 3 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने कहा कि जांच शुरू की गई है और गिरफ्तारी के लिए कई टीम रवाना की गई हैं.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ट्वीट में दावा किया कि असामाजिक तत्वों ने दिल्ली में केजरीवाल के आवास पर सीसीटीवी कैमरे और सुरक्षा के लिये लगाए गए अवरोधकों पर हमला किया और उन्हें क्षतिग्रस्त कर दिया. उन्होंने बताया कि द्वार पर लगा ‘बूम बैरियर’ भी टूट गया है. भाजपा कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर आवास के प्रमुख द्वार पर पेंट भी फेंका.

सिसोदिया ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘भाजपा के गुंडों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर में तोड़फोड़ की. भाजपा की पुलिस उन्हें रोकने के बजाय घर के गेट तक ले गई.’’ दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने यह भी आरोप लगाया कि ‘‘भाजपा के लोगों द्वारा हमला दिल्ली पुलिस के र्किमयों की मौजूदगी में किया गया, जिसके दौरान सीसीटीवी कैमरे और बैरियर तोड़ दिए गए.’’ भाजयुमो के राष्ट्रीय सचिव तेंिजदर पाल ंिसह बग्गा ने कहा कि संगठन के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के घर के निकट प्रदर्शन किया, लेकिन किसी तरह की तोड़फोड़ नहीं की.

बग्गा ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘हमें पुलिस ने रोका और तेजस्वी सूर्य सहित हमारे लगभग 20-25 सदस्यों और नेताओं को हिरासत में लिया गया और एक पुलिस स्टेशन ले जाया गया. बाद में उन्हें छोड़ दिया गया.’’ ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म को लेकर बीजेपी और आप के बीच जुबानी-जंग छिड़ी हुई है, केजरीवाल ने हाल ही में इस मुद्दे पर दिल्ली विधानसभा में पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था.

भाजपा नेता और कार्यकर्ता केजरीवाल पर हमला करते रहे हैं और उन पर कश्मीरी पंडितों के दर्द का ‘‘मजाक’’ उड़ाने और कश्मीर में उनके ‘‘नरसंहार’’ पर आधारित फिल्म को झूठ बताने का आरोप लगाते रहे हैं. सूर्य ने आरोप लगाया कि इस मुद्दे के पीड़ित आम आदमी पार्टी और केजरीवाल नहीं बल्कि कश्मीरी पंडित हैं.

मुख्यमंत्री केजरीवाल का आवास 6, फ्लैग स्टाफ रोड पर है. भाजयुमो का विरोध-प्रदर्शन बुधवार सुबह करीब 11 बजकर 30 मिनट पर शुरू हुआ. दिल्ली पुलिस ने कहा कि उसने उपयुक्त इंतजाम किए थे लेकिन 15-20 प्रदर्शनकारी मुख्यमंत्री आवास तक पहुंचने में सफल रहे और उन्हें तत्काल हटा लिया गया. पुलिस उपायुक्त कल्सी ने कहा कि दोपहर करीब एक बजे कुछ प्रदर्शनकारी दो बैरिकेड को लांघकर मुख्यमंत्री आवास के बाहर पहुंच गए, जहां उन्होंने हंगामा किया और नारेबाजी की.

कानूनी कार्रवाई किए जाने पर जोर देते हुए कल्सी ने कहा, ” उन लोगों ने पेंट का एक छोटा डिब्बा लिया हुआ था, जिसे उन्होंने गेट पर फेंक दिया. हंगामे के दौरान एक बूम बैरियर और सीसीटीवी कैमरा भी टूटा है. पुलिस टीम ने तत्काल प्रदर्शनकारियों को मौके से हटाया और करीब 70 लोगों को हिरासत में लिया.” वहीं, केजरीवाल के आवास पर तोड़फोड़ से गुस्साई आम आदमी पार्टी ने भाजपा पर जमकर हमला बोला.

सिसोदिया ने प्रेसवार्ता के दौरान आरोप लगाया, ‘‘चूंकि, वे पंजाब चुनाव में अरविंद केजरीवाल को नहीं हरा सके, इसलिए भाजपा अब उनकी हत्या करना चाहती है. आज मुख्यमंत्री के आवास पर हुआ हमला दिखाता है कि भाजपा, पुलिस की मदद से केजरीवाल की हत्या करना चाहती है. हम इसके खिलाफ औपचारिक तौर पर शिकायत दर्ज कराएंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘केजरीवाल पर जानलेवा हमले की पूरी तैयारी की गई थी.’’ उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर पुलिस की मौजूदगी में ‘‘हमला’’ कायराना कृत्य है जो दिखाता है कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) आम आदमी पार्टी (आप) और पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक से भयभीत है. वहीं, रोहिणी से भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता ने ट्वीट कर कहा, ‘‘आम आदमी पार्टी जनता के आक्रोश से हिल गई है और नये तरह का ड्रामा कर रही है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button