रवि शंकर आरबीआई के डिप्टी गवर्नर बने

मुंबई. भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि टी रवि शंकर ने सोमवार को केंद्रीय बैंक के नए डिप्टी गवर्नर के रूप में कार्यभार संभाल लिया. उनका कार्यकाल तीन साल का होगा. बी पी कानूनगो के दो अप्रैल को सेवानिवृत्त होने के बाद यह पद खाली हुआ था. तीन अन्य डिप्टी गवर्नर माइकल डी पात्रा, मुकेश कुमार जैन और राजेश्वर राव है.

रिजर्व बैंक के जारी वक्तव्य में यह कहा गया है. शंकर डिप्टी गवर्नर बनने से पहले आरबीआई के कार्यकारी निदेशक थे. मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने शनिवार को नए आरबीआई डिप्टी गवर्नर के रूप में शंकर की नियुक्ति को मंजूरी दी.

आरबीआई ने कहा, ‘‘तीन मई 2021 की भारत सरकार की अधिसूचना के अनुसार टी रवि शंकर ने आज भारतीय रिजÞर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर के रूप में तीन साल की अवधि के लिए या अगले आदेशों तक, जो भी पहले हो, जिम्मेदारी संभाली.’’ शंकर ने नई दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में एमफिल किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close