भाजपा लोगों को धर्म के आधार पर बांटकर देश को तोड़ने की साजिश कर रही है: कांग्रेस

नयी दिल्ली. कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर लोगों को धार्मिक आधार पर बांटकर भारत को ‘‘तोड़ने’’ की साजिश करने का मंगलवार को आरोप लगाया. पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन ने यहां पत्रकारों से कहा कि लोगों को एकजुट करने के लिए कांग्रेस देशभर में ‘यात्राएं’ आयोजित करेगी. उन्होंने कहा कि पार्टी ने भारत को एकजुट करने के लिए ‘‘भारत जोड़ो’’ का नारा दिया है और देश की आजादी के 75वें वर्ष के दौरान नौ अगस्त के बाद 75 किलोमीटर की यात्रा शुरू की जाएगी.

माकन ने राजस्थान के उदयपुर में हाल में संपन्न हुए तीन दिवसीय ‘ंिचतन शिविर’ में की गई सिफारिशों पर अमल करने को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिवों और प्रभारियों की बैठक के बाद कहा कि ‘भारत जोड़ो’ भारत के लोगों को एकजुट करने के बारे में है.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी लोगों से भारत को एकजुट करने और भाजपा की नफरत की राजनीति को हराने का आ’’ान किया.
गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘जनता के मुद्दे – कमाई, महंगाई भाजपा के मुद्दे -दंगा, तानाशाही. देश को आगे बढ़ाना है तो भाजपा की नकारात्मक सोच और नफरत की राजनीति को हराना है. आओ मिलकर ‘भारत जोड़ो’.’’ प्रियंका गांधी वाद्रा, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला और माकन सहित कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में भाग लिया. पार्टी महासचिव और प्रभारियों की बुधवार को फिर से बैठक होगी और इसमें हाल में संपन्न ंिचतन शिविर में की गई सिफारिशों को लागू करने के संबंध में विस्तृत योजना तैयार की जाएगी.

कांग्रेस ने रविवार को ‘बडे सुधारों’ की घोषणा की थी और यह फैसला किया था कि इन सुधारों को आगे बढ़ाने के लिए पार्टी में एक समग्र कार्यबल का गठन किया जाएगा तथा ‘एक परिवार, एक टिकट’ का फार्मूला लागू होगा. साथ ही, यह शर्त भी जुड़ी होगी कि परिवार के किसी दूसरे सदस्य को टिकट तभी मिलेगा, जब उसने संगठन के लिए कम से कम पांच साल काम किया हो. कांग्रेस ने अगले लोकसभा चुनाव से 50 प्रतिशत टिकट, 50 साल से कम उम्र के लोगों को दिए जाने की घोषणा की थी.

माकन ने कहा कि ऐसे लोगों की पहचान की जायेगी जो संगठन में कई पदों पर हैं और पांच साल से अधिक समय से एक पद पर हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस चुनाव प्राधिकार, जो संगठनात्मक चुनाव कराता है, को 50 साल से कम उम्र के लोगों को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व देने की नई सिफारिशों को लेकर अवगत कराया गया है.

माकन ने कहा, “प्रक्रिया शुरू कर दी गई है और सिफारिशों को एक समयबद्ध कार्य योजना में लागू किया जाएगा. यह सिर्फ एक ‘नव संकल्प’ नहीं है, बल्कि एक ‘दृढ़ संकल्प’ है.” भाजपा पर निशाना साधते हुए माकन ने कहा कि थोक मूल्य सूचकांक के रिकॉर्ड 15.08 प्रतिशत तक बढ़ने और भारतीय रुपये के रिकॉर्ड निचले स्तर पर गिरने और बढ़ती महंगाई जैसे मुद्दों से लोग परेशान हैं, लेकिन भाजपा जानबूझकर ध्रुवीकरण के मुद्दे उठा रही है ताकि उन पर चर्चा से बचा जा सके और जनता का ध्यान इन ज्वलंत मुद्दों से भटकाया जा सके.

माकन ने कहा, “भाजपा नेता लोगों को बांट रहे हैं, और वे देश को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब आप लोगों की एकता को तोड़ते हैं, तो भारत के टूटने का खतरा और अधिक वास्तविक हो जाता है. हम भाजपा से आग्रह करते हैं कि जिस तरह से वे देश पर शासन कर रहे हैं और लोगों को बांट रहे हैं, उस पर फिर से विचार करें.’’ उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी से ऐसा नहीं करने का आग्रह करते हुए कहा, “कृपया लोगों को विभाजित न करें, क्योंकि लोगों को एकजुट करने में पीढ़ियां लग जाती हैं.”

सीबीआई की छापेमारी गलत, पार्टी चिदंबरम के साथ खड़ी है : कांग्रेस

कांग्रेस ने पार्टी के नेता पी. चिदंबरम के बचाव में उतरते हुए मंगलवार को कहा कि 11 वर्ष पुराने मामले में उनके और उनके बेटे के खिलाफ केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के छापे ‘‘गलत’’ हैं तथा इसका लक्ष्य ‘‘महंगाई एवं बेरोजगारी’’ के मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाना है. पार्टी ने यह भी कहा कि पी. चिदंबरम एक राष्ट्रवादी और देशभक्त हैं, जिनकी देश के प्रति प्रतिबद्धता पर सवाल खड़ा नहीं किया जा सकता.

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने एक बिजली कंपनी के लिए 263 चीनी नागरिकों को वीजा प्राप्त करने में सहायता करने के 11 साल पुराने एक आरोप की जांच को लेकर लोकसभा सदस्य कार्ति चिदंबरम के खिलाफ एक नया मामला दर्ज किया है. जांच एजेंसी के अनुसार, कार्ति पर आरोप है कि उन्होंने अपने पिता पी. चिदंबरम के केंद्रीय गृह मंत्री रहने के दौरान 50 लाख रुपये के एवज में चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाया था. सीबीआई ने पी चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति के चेन्नई और दिल्ली स्थित आवास सहित विभिन्न शहरों में 10 स्थानों पर तलाशी भी ली.

कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ‘‘छापे गलत हैं. ’’ उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी चिदंबरम के साथ खड़ी है. यह (छापेमारी) बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए किया जा रहा है. ’’ माकन ने कहा, ‘‘यह मुद्दा करीब 12 साल बाद उठाया जा रहा है और चिदंबरम ने छापेमारी के ‘समय’ पर भी सवाल उठाया है. ’’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘पी. चिदंबरम एक राष्ट्रवादी और देशभक्त हैं, जिनकी देश के प्रति प्रतिबद्धता पर कोई सवाल खड़ा नहीं किया जा सकता.’’ सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘एक पूर्व गृह मंत्री और वित्त मंत्री के खिलाफ सीबीआई द्वारा हास्यास्पद आरोप राजनीतिक विमर्श के निम्नतम स्तर को प्रर्दिशत करते हैं. ’’ चिदंबरम ने एक बयान में कहा कि आज सुबह सीबीआई के एक दल ने उनके चेन्नई स्थित घर और दिल्ली स्थित आधिकारिक आवास पर छापेमारी की.

उन्होंने कहा, ‘‘ सीबीआई के दल ने मुझे एक प्राथमिकी दिखाई, जिसमें मेरा नाम आरोपी के तौर पर दर्ज नहीं था. छापेमारी में कुछ नहीं मिला और कुछ भी जब्त नहीं किया गया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मैं इस बात की ओर ध्यान जरूर दिलाना चाहूंगा कि छापेमारी का समय दिलचस्प है.’’ अधिकारियों ने बताया कि चेन्नई और मुंबई में तीन-तीन जगहों के अलावा दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और ओडिशा में एक-एक जगह पर छापेमारी की गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button