बागी विधायकों को राउत की पेशकश पर चव्हाण बोले: ठाकरे ‘यू-टर्न’ लें तो हैरानी होगी

मुंबई. कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने बृहस्पतिवार को कहा कि उन्हें नहीं लगता कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ‘यू-टर्न’ लेंगे और सत्तारूढ़ महा विकास आघाड़ी (एमवीए) से बाहर होने की शिवसेना के बागी विधायकों की मांग पर सहमत होंगे. चव्हाण शिवसेना सांसद संजय राउत के पूर्वाह्न के बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें राउत ने कहा था कि शिवसेना एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले बागी विधायकों की एमवीए से अलग होने की मांग पर ‘विचार करने के लिए तैयार’ है.

राउत की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री चव्हाण ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘क्या शिवसेना महाराष्ट्र में भाजपा से हाथ मिलाना चाहती है? शिवसेना की मंशा अभी स्पष्ट नहीं है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने उद्धव ठाकरे को उनके बुधवार शाम के सार्वजनिक संबोधन में इस तरह बोलते नहीं सुना है. मुझे आश्चर्य होगा अगर उद्धव ठाकरे 24 घंटे से भी कम समय में इस तरह पलट जाते हैं. मुझे नहीं लगता कि ठाकरे ऐसा करेंगे. यह भी स्पष्ट नहीं है कि राउत का बयान शिवसेना का आधिकारिक रुख दर्शाता है या नहीं.’’

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘यह भी स्पष्ट नहीं है कि शिवसेना के किस धड़े को पार्टी का प्रामाणिक चेहरा माना जाना चाहिए.’’ उन्होंने कहा कि शिवसेना आंतरिक कलह का सामना कर रही है और इसे ठीक करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि शिवसेना के अंदरूनी मामले पर उनकी पार्टी कुछ नहीं कहेगी. ठाकरे ने बुधवार को भावनात्मक अपील के साथ बागी विधायकों तक अपनी भावना पहुंचाने का प्रयास किया था और मुख्यमंत्री पद छोड़ने की पेशकश की थी.

इस बीच, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि उनकी पार्टी ने अभी तक राउत की टिप्पणियों पर चर्चा नहीं की है. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन हम चाहते हैं कि यह सरकार अपना कार्यकाल पूरा करे, क्योंकि इसने कुछ अच्छे फैसले लिए हैं.’’ ठाकरे सरकार में मंत्री पद संभाल रहे पाटिल ने कहा, ‘‘शिवसेना छोड़ने वाले बाद में चुनाव हार जाते हैं.’’ शिवसेना के बागी विधायकों के इस रुख पर कि वे राकांपा और कांग्रेस के मंत्रियों के ‘भ्रष्टाचार’ के कारण एमवीए का हिस्सा नहीं बनना चाहते, पाटिल ने कहा कि अलग-अलग विधायकों के बयानों को शिवसेना का आधिकारिक रुख नहीं माना जाना चाहिए.

राकांपा के एक अन्य नेता, प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि पार्टी प्रमुख शरद पवार ने ‘एमवीए का गठन किया था और वह अब भी चाहते हैं कि यह बरकरार रहे.’ उन्होंने बताया कि शरद पवार, उपमुख्यमंत्री अजित पवार और जयंत पाटिल सहित राकांपा नेता आज शाम मुंबई में बैठक करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button