लद्दाख की जमीन पर चीनी सेना का ‘कब्जा’, भाजपा प्रतिद्वंद्वियों पर कार्रवाई कर खुश : शिवसेना

मुंबई. शिवसेना ने शुक्रवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक तरफ लद्दाख में चीनी सेना ने बड़े हिस्से पर ‘कब्जा’ कर लिया है और कश्मीर में अलगाववादियों ने अपने झंडे लहराए हैं, वहीं सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ छापेमारी कर खुशी मना रही है.

पार्टी ने यह भी कहा कि स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को पाकिस्तान के कब्जा वाले कश्मीर का दौरा करके हिम्मत दिखानी चाहिए. शिवसेना ने कहा कि उन्हें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ ंिशदे, बागी विधायक उदय सामंत, दादा भुसे और दीपक केसरकर को भी साथ ले जाना चाहिए, जिन्हें ंिहदुत्व का नया ‘जोश’ मिला है. यह एक उदाहरण स्थापित करेगा.

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में एक संपादकीय में कहा, ‘‘लद्दाख में चीन की सेना ने प्रवेश किया और 38,000 वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्जा कर लिया और अलगाववादी कश्मीर में अपना झंडा फहरा रहे हैं, जबकि सत्तारूढ़ पार्टी प्रतिद्वंद्वियों पर छापेमारी करके उन्हें गिरफ्तार कर खुशी महसूस कर रही है.’’ पार्टी ने कहा कि जब अनुच्छेद 370 को निरस्त किया गया था, तो कश्मीर के लिए अलग झंडा भी हटा दिया गया था. मोदी और शाह ने घोषणा की थी कि कश्मीर अब भारत का ‘‘शत प्रतिशत’’ हिस्सा है. लेकिन, कश्मीरी पंडितों की बदहाली और अलगाववादियों का ‘गंदा खेल’ अब भी जारी है और हालात में कोई बदलाव नजर नहीं आ रहा है.

केंद्र ने पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती की अपने ट्विटर अकाउंट की डिस्प्ले तस्वीर में कश्मीर का झंडा प्रर्दिशत करने के लिए ंिखचाई की है. महबूबा मुफ्ती की ट्विटर डिस्प्ले तस्वीर में प्रधानमंत्री मोदी की तरफ तिरंगा और मुफ्ती के पिता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की तस्वीर है, जिनके पास कश्मीर का झंडा है. केंद्र पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि उसके पास मुफ्ती के खिलाफ कार्रवाई करने का साहस नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

हर घर तिरंगा अभियान


This will close in 10 seconds