दिल्ली: अदालत ने विधायक अमानतुल्ला खान को जमानत प्रदान की

आम आदमी पार्टी के नेता अमानतुल्ला खान ‘खराब चरित्र’ घोषित

नयी दिल्ली. दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान को जमानत प्रदान की और कहा कि उन्हें हिरासत में रखकर पूछताछ करने की आवश्यकता नहीं है. खान को दंगा करने और सरकारी कर्मचारी के काम में बाधा डालने के आरोप में बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया था.

खान की एक दिन की हिरासत अवधि समाप्त होने पर उन्हें मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट हिमांशु तंवर के समक्ष पेश किया गया था.
अदालत ने दिल्ली पुलिस और आरोपी के वकील की दलीलें सुनने के बाद 50,000 रुपये के निजी मुचलके और इसी राशि की दो जमानत पर राहत प्रदान की.

न्यायाधीश ने कहा कि आरोपी एक निर्वाचित जनप्रतिनिधि है और एक विधायक होने के चलते उनसे उम्मीद की जाती है कि वह कानून-व्यवस्था बरकरार रखने का प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि जमानत पर रिहा किए जाने पर आरोपी के फरार होने की आशंका नहीं है.

न्यायाधीश ने कहा, ”तथ्य यह है कि आरोपी को अब हिरासत में रखकर पूछताछ की आवश्यकता नहीं है और आरोपी की ओर से किए गए निवेदन तथा तथ्यों और परिस्थितियों पर विचार करते हुए जांच अधिकारी द्वारा आरोपी की न्यायिक हिरासत के लिए दायर आवेदन को खारिज किया जाता है और आरोपी अमानतुल्ला खान को जमानत दी जाती है.” गौरतलब है कि दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में बृहस्पतिवार को निगम के अतिक्रमण-रोधी अभियान के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन में शामिल होने के चलते विधायक अमानतुल्ला खान को गिरफ्तार किया गया था.

आम आदमी पार्टी के नेता अमानतुल्ला खान ‘खराब चरित्र’ घोषित

दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान को ‘‘खराब चरित्र’’ घोषित किया है. एक आधिकारिक दस्तावेज में इसका खुलासा हुआ. दक्षिण पूर्वी जिले के जामिया नगर पुलिस थाने द्वारा 28 मार्च को खान को ‘‘खराब चरित्र’’ घोषित करने का प्रस्ताव भेजा गया था जिसे 30 मार्च को मंजूरी दी गई.

दस्तावेज में कहा गया कि खान के विरुद्ध कुल 18 प्राथमिकी दर्ज है. पुलिस के अनुसार, जो व्यक्ति हत्या और हत्या के प्रयास जैसे मामलों में शामिल होता है और किसी क्षेत्र में शांति भंग कर सकता है उसे ‘‘खराब चरित्र’’ घोषित कर दिया जाता है. पुलिस ऐसे लोगों पर नजर रखती है.

ओखला से विधायक खान और पांच अन्य को दंगे तथा लोक सेवकों को कर्तव्य निर्वहन से रोकने के आरोप में बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया था. इससे पहले विधायक ने दक्षिण पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में अतिक्रमण रोधी अभियान के विरोध में हो रहे प्रदर्शन में भाग लिया था.

विधायक अमानतुल्ला खान की गिरफ्तारी के विरोध में जामिया नगर, शाहीन बाग में दुकानें बंद रहीं

आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधायक अमानतुल्ला खान की गिरफ्तारी के विरोध में शुक्रवार को दिल्ली के जामिया नगर और शाहीन बाग में अधिकतर दुकानें बंद रहीं. खान को नगर निगम के अतिक्रमण-रोधी अभियान के खिलाफ धरना-प्रदर्शन करने के चलते गिरफ्तार किया गया है. खान और पांच अन्य लोगों को दंगा करने और सरकारी कर्मचारी के काम में बाधा डालने के आरोप में बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया.

निगम पार्षद अब्दुल वाजिद खान ने शुक्रवार को पीटीआई-भाषा से कहा कि इलाके के सभी बाजार आज बंद हैं. उन्होंने कहा, ”हम अमानतुल्ला खान की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे हैं और इलाके के लोगों ने हमारे साथ एकजुटता प्रर्दिशत करने के चलते दुकानें बंद रखी हैं.” जामिया नगर में मोबाइल मरम्मत की दुकान चलाने वाले सिराजुद्दीन ने कहा कि उन्होंने और इलाके के अन्य दुकानदारों ने पार्षद द्वारा आहूत बंद के समर्थन में अपनी दुकानें बंद रखीं.

उन्होंने कहा, ”कल गलत तरीके से अमानतुल्ला खान को गिरफ्तार किया गया. इसलिए, आज हम दुकानों को बंद रखकर अपना विरोध जता रहे हैं.” शाहीन बाग के एक दुकानदार रफीक ने कहा कि इलाके के अन्य दुकानदारों के दुकानें नहीं खोलने के बाद उन्होंने भी अपनी दुकान बंद रखने का फैसला किया.

पुलिस के मुताबिक, दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में बृहस्पतिवार को अतिक्रमण-रोधी अभियान के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन में शामिल होने के चलते विधायक अमानतुल्ला खान को गिरफ्तार किया गया. दिल्ली के नगर निकायों ने बृहस्पतिवार को विभिन्न इलाकों में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया. वहीं, इसके खिलाफ मदनपुर खादर इलाके में ंिहसक प्रदर्शन हुआ एवं पत्थरबाजी हुई. इसके साथ ही स्थानीय लोगों ने दावा किया कि वैध ढांचे भी ध्वस्त किए जा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button