सिख कैदियों की रिहाई और राजस्थान सरकार को बर्खास्त करने की मांग लोकसभा में उठी

नयी दिल्ली. शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने ‘सजा पूरी कर चुके कई सिख कैदियों के जेल में बंद होने’ का विषय सोमवार को लोकसभा में उठाया और केंद्र सरकार से आग्रह किया कि देंिवदर पाल ंिसह भुल्लर समेत ऐसे सभी सिख कैदियों की रिहाई सुनिश्चित की जाए जो अपनी सजा पूरी कर चुके हैं।

उन्होंने सदन में शून्यकाल के दौरान यह विषय उठाया। कौर ने कहा, ‘‘मैं सरकार का ध्यान उन बंदी सिखों की तरफ दिलाना चाहती हूं जो 25-30 वर्षों से सजा काटने के बाद भी जेल में बंद हैं। उनको दोगुनी सजा हो गई है, लेकिन वो अब भी बाहर नहीं आए हैं…प्रोफेसर भुल्लर जैसे लोग अब भी जेल में बंद हैं जो अपनी तय सजा से दोगुनी सजा काट चुके हैं।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने पंजाब में भुल्लर की रिहाई का वादा किया, लेकिन दिल्ली में उनके मंत्री उचित कदम नहीं उठा रहे।

उन्होंने कहा कि कुछ साल पहले सरकार ने सजा पूरी कर चुके सिख कैदियों की रहाई का वादा किया था, लेकिन अब तक रिहाई नहीं हुई। हरसिमरत कौर ने कहा, ‘‘मेरी मांग है कि ऐसे कैदियों की तत्काल रिहाई की जाए।’’ भाजपा के सीपी जोशी ने पिछले दिनों राजस्थान के करौली में दो गुटों के बीच झड़प का विषय उठाया और प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार को बर्खास्त करने की मांग की।

उन्होंने कहा, ‘‘ंिहदू नव वर्ष पर जुलूस निकल रहा था, उस समय करौली में पथराव किया गया। राजस्थान के कुछ अन्य स्थानों पर भी असामाजिक तत्वों ने पथराव किया है।’’जोशी ने दावा किया कि राजस्थान में किसान सुरक्षित नहीं हैं, महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं और सत्तारूढ़ पार्टी के एक विधायक के बेटे पर बलात्कार का आरोप लगा है।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा सरकार से आग्रह है कि राजस्थान सरकार को बर्खास्त किया जाए।’’ बहुजन समाज पार्टी के सांसद दानिश अली ने उत्तर प्रदेश में पेपर लीक का विषय सदन में उठाया और केंद्र सरकार से जांच की मांग की। उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में पिछले दिनों बोर्ड की परीक्षा में पेपर लीक हुआ। पिछले पांच साल में 18 पेपर लीक हुए हैं। कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। मेरी मांग है कि इसकी विशेष जांच हो।’’

अली ने दावा किया कि पेपर लीक के दोषियों के बजाय पत्रकारों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है। शिवसेना के श्रीकांत ंिशदे ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों के लिए रेल किरायों में विशेष छूट की व्यवस्था बहाल की जाए। भाजपा के राजू बिष्ट ने कहा कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक कार्यकर्ताओं पर हो रहे ‘अत्याचार और अन्याय’ के खिलाफ सदन में चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस के राजमोहन उन्नीथन ने कहा कि सरकार को महंगाई पर काबू करना चाहिए। कांग्रेस के कुलदीप राय शर्मा, निर्दलीय नवनीत रवि राणा और कई अन्य सदस्यों ने लोक महत्व के अलग-अलग विषय सदन में उठाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button