निर्वाचन आयोग ने 15 राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों पर चुनाव की घोषणा की

नयी दिल्ली. पंद्रह राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होंगे. निर्वाचन आयोग ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की. जून और अगस्त महीने के बीच इन सीटों का प्रतिनिधित्व कर रहे सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. इन चुनावों के नतीजे आने के बाद उच्च सदन में जहां अकाली दल का प्रतिनिधित्व समाप्त हो जाने के आसार हैं, वहीं हाल ही में राज्यसभा में 100 सदस्यों का आंकड़ा पार करने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की संख्या कम होने की संभावना है.

जिन सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, मुख्तार अब्बास नकवी, कांग्रेस नेता अंबिका सोनी, जयराम रमेश और कपिल सिब्बल तथा बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सतीश चंद्र मिश्र प्रमुख हैं. इन सदस्यों का कार्यकाल 21 जून से एक अगस्त के बीच समाप्त हो रहा है. 245-सदस्यीय राज्यसभा में वर्तमान में भाजपा के 95 सदस्य हैं जबकि कांग्रेस के 29 सदस्य हैं.

उत्तर प्रदेश के 11 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है जबकि महाराष्ट्र और तमिलनाडु के छह-छह सदस्य इस अवधि में सेवानिवृत्त हो रहे हैं. जिन अन्य सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें पांच बिहार से, चार-चार आंध्र प्रदेश, राजस्थान और कर्नाटक से हैं. तीन-तीन सदस्य मध्य प्रदेश और ओड़िशा से हैं. सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों में दो-दो सदस्य तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पंजाब, झारखंड और हरियाणा से हैं जबकि एक सदस्य उत्तराखंड से है.

भाजपा को आंध्र प्रदेश, झारखंड और राजस्थान में झटका लग सकता है. आंध्र प्रदेश से भाजपा के तीन सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. हालांकि भाजपा को उम्मीद है कि वह इस नुकसान की भरपाई उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से कर लेगी. पंजाब से अकाली दल के एकमात्र राज्यसभा सदस्य बलंिवदर ंिसह भुंडर और कांग्रेस की अंबिका सोनी का कार्यकाल सामप्त हो रहा है. हाल ही में इस राज्य में हुए विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी को जबरदस्त जीत हासिल हुई थी. यहां की दोनों सीटों पर आप कब्जा जमा सकती है.

महाराष्ट्र में शिव सेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार है. इस राज्य से खाली ही रही छह सीटों में से वर्तमान में तीन पर गठबंधन और तीन पर भाजपा का कब्जा है. आंकड़ों के लिहाज से बहुत संभावना है कि गठबंधन अपनी तीनों सीटें बचा लेगा जबकि भाजपा तीन में से दो ही सीट आसानी से जीतने की स्थिति में है. इन चुनावों से उच्च सदन में बसपा की सदस्य संख्या में एक की कमी आएगी. इन चुनावों की अधिसूचना 24 मई को जारी होगी जबकि मतदान 10 जून को होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button