यूरोपीय संघ ने पुतिन की बेटियों पर लगाए प्रतिबंध

ब्रसेल्स. यूरोपीय संघ (ईयू) ने यूक्रेन पर आक्रमण के चलते रूस को लक्षित करने वाले नए प्रतिबंधों के तहत रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की दो वयस्क बेटियों पर भी प्रतिबंध लगा दिए हैं. ईयू के दो अधिकारियों ने यह जानकारी दी. यूरोपीय देशों के संघ ने उन लोगों की एक अद्यतन सूची तैयार की है, जिनकी संपत्ति जब्त की जाएगी और यात्रा प्रतिबंध लगाए जाएंगे. इनमें पुतिन की बेटी मारिया वोरोनत्सोवा और कतरीना तिखोनोवा का नाम भी शामिल है.

ईयू के दो देशों के अधिकारियों ने नाम उजागर न करने की शर्त पर ‘द एसोसिएटेड प्रेस’ को यह जानकारी दी. इन प्रतिबंधों की अभी तक सार्वजनिक रूप से घोषणा नहीं की गई है. अमेरिका ने भी दो दिन पहले ऐसे ही प्रतिबंध लगाए थे. कीव के बाहरी क्षेत्र में यातनाओं और हत्याओं के साक्ष्यों के मद्देनजर यूरोपीय संघ ने रूस के खिलाफ प्रतिबंधों का पांचवां पैकेज लागू करने का निर्णय लिया.

यूरोपीय संघ के शीर्ष राजनयिक जोसेप बोरेल ने कहा, “इन नवीनतम प्रतिबंधों को बुचा और रूस के कब्जे वाले अन्य क्षेत्रों में रूसी सशस्त्र बलों द्वारा किए गए अत्याचारों के चलते अपनाया गया.” उन्होंने कहा, “हमारे प्रतिबंधों का उद्देश्य रूसी सैनिकों के लापरवाह, अमानवीय और आक्रामक व्यवहार को रोकना है तथा हम क्रेमलिन में निर्णय निर्माताओं को स्पष्ट करना चाहते हैं कि उन्हें अपनी अवैध आक्रामकता की भारी कीमत चुकानी होगी.”

व्यक्तियों और उनके परिजनों, कुलीन वर्गों और उच्च पदस्थ क्रेमलिन अधिकारियों पर प्रतिबंधों के अलावा, 27 देशों के संघ ने अगस्त में शुरू होने वाले कोयले के आयात पर प्रतिबंध लगाने के साथ-साथ चार प्रमुख रूसी बैंकों पर लेनदेन संबंधी प्रतिबंध को भी शुक्रवार को औपचारिक रूप से मंजूरी दे दी जो रूसी बैंंिकग क्षेत्र में 23 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी का प्रतिनिधित्व करते हैं. इसके अलावा, रूसी ध्वज वाले पंजीकृत जहाजों को अब यूरोपीय संघ के बंदरगाहों तक पहुंचने के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है. हालांकि कृषि एवं खाद्य उत्पाद तथा मानवीय सहायता संबंधी पोतों को अपवाद के रूप में रखा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button