हवाना के होटल में विस्फोट: 25 लोगों की मौत, बचाव कर्मी पीड़ितों की तलाश में जुटे

हवाना. क्यूबा की राजधानी हवाना के मध्य में एक आलीशान होटल में हुए शक्तिशाली विस्फोट में कम से कम 25 लोगों की मौत हो गई, जबकि दर्जनों अन्य घायल हो गए. बचावकर्मी मलबे से लोगों को निकालने के अभियान में जुटे हैं. यह मशहूर लग्जरी होटल है जो बेयोंसे और जे-जेड सहित कई हस्तियों की मेजबानी कर चुका है.

हवाना के 96 कमरों वाले होटल साराटोगा में शुक्रवार को हुआ विस्फोट संभवत: प्राकृतिक गैस के रिसाव के कारण हुआ. 19वीं सदी का यह ढांचा ओल्ड हवाना में स्थित है. विस्फोट के समय साराटोगा होटल में कोई पर्यटक नहीं था, क्योंकि वहां मरम्मत का काम चल रहा था. मंगलवार को होटल को खोलने की योजना थी. क्यूबा की आधिकारिक क्यूबाडिबेट न्यूज वेबसाइट ने हवाना शहर की सरकार में समन्वयक ओरेस्टेस ललनेज के हवाले से बताया कि मृतकों की संख्या बढ़कर 25 हो गई है. उन्होंने बताया कि मृतकों में से 22 लोगों की पहचान हो गई है जिनमें से 18 हवाना के हैं जबकि चार क्यूबा के अन्य क्षेत्रों के हैं.

उन्होंने बताया कि बचाव कर्मी संभावित पीड़ितों की तलाश में होटल के बेसमेंट तक पहुंच गए हैं. होटल के मलबे से शनिवार तड़के कम से कम एक व्यक्ति को ंिजदा निकाला गया. बचाव कर्मी खोजी कुत्तों की मदद से क्रक्रीट के बड़े-बड़े टुकड़ों के बीच ंिजदा लोगों की तलाश कर रहे हैं. लापता लोगों के परिजन अपनों की तलाश में शुक्रवार रात से घटनास्थल पर मौजूद हैं तो कुछ लोग अस्पतालों के बाहर जमा हैं जहां घायलों का इलाज हो रहा है. क्रिस्टिना एवलर ने एसोसिएटेड प्रेस (एपी) को कहा, ‘‘मैं यहां से नहीं जाना चाहती.’’ विस्फोट में होटल की बाहरी दीवार ढह गयी है, जिससे अंदर के कमरे साफ-साफ दिखाई पड़ रहे हैं.

होटल में गत पांच साल से काम कर रहे एवलर वहां ओडालीज बरेरा (57) का इंतजार कर रही हैं, जो होटल में कैशियर थीं और उन्हें अपनी बहन की तरह मानती हैं. इसके अलावा विस्फोट में किसी पर्यटक के हताहत होने की खबर नहीं है. विस्फोट की यह घटना क्यूबा के पर्यटन उद्योग के लिए एक और बड़ा झटका है. यहां तक कोरोना वायरस महामारी से पहले से क्यूबा पर्यटकों से दूर है. देश, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा लगाए गए सख्त प्रतिबंधों से संघर्ष कर रहा है जिसे अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी कायम रखा है.

इसकी वजह से अमेरिका से आने वाले सीमित पर्यटकों और अमेरिका में रह रहे क्यूबाई लोगों द्वारा स्वदेश में रह रहे लोगों को धन भेजने पर भी रोक लग गई है. इस साल की शुरुआत में पर्यटन उद्योग ने थोड़ी रफ्तार पकड़ी थी लेकिन यूक्रेन पर युद्ध के कारण रूसी पर्यटकों की संख्या में काफी कमी आई है. क्यूबा की यात्रा करने वाला हर तीसरा पर्यटक रूसी नागरिक होता है. शुक्रवार को हुए विस्फोट में होटल की पहली मंजिल को काफी नुकसान पहुंचा है.

होटल के नीचले तल को शुक्रवार को हुए धमाके से सबसे अधिक नुकसान हुआ है. आगे की दीवार गिर जाने से गद्दे, फर्नीचर, लटकते शीशें, फटे हुए पर्दे और धूल से ढके तकिएं दिखाई दे रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय में अस्पताल सेवाओं के प्रमुख डॉ. जूलियो गुएरा इजक्विएर्डो ने संवाददाताओं को बताया कि शुक्रवार को हुए इस हादसे में कम से कम 74 लोग घायल हुए हैं. राष्ट्रपति मिगुएल डिआज-कैनेल के कार्यालय द्वारा किए गए एक ट्वीट के अनुसार, घायलों में 14 बच्चे शामिल हैं.

क्यूबा के स्वास्थ्य मंत्री जोस एंजेल पोर्टल ने एपी को बताया कि घायलों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि ओल्ड हवाना स्थित 19वीं सदी के इस होटल के मलबे में फंसे लोगों की तलाश जारी है. दमकल विभाग के लेफ्टिनेंट कर्नल नोएल सिल्वा ने कहा, ‘‘हम अब भी मलबे के नीचे दबे लोगों की तलाश कर रहे हैं.’’ डिआज-कैनेल ने बताया कि विस्फोट से प्रभावित होटल के पास की इमारतों में रह रहे परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया है.भारी मशीनों से ध्वस्त दीवार को हटाया जा रहा है और ट्रक मलबा भर जा रहे हैं.

होटल के बगल में स्थित 300 छात्रों वाले एक स्कूल को खाली करा लिया गया. गार्सिया ने कहा कि हादसे में पांच छात्रों को मामूली चोटें आई हैं. पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर ली है. यह होटल क्यूबा की संसद की इमारत से महज 100 मीटर की दूरी पर है विस्फोट के बाद संसद की इमारत की खिड़कियां भी टूट गई.

होटल को पहली बार 2005 में क्यूबा सरकार के ओल्ड हवाना के पुनरुद्धार कार्यक्रम के तहत पुर्निर्निमत किया गया था. इसका स्वामित्व क्यूबा की सेना की पर्यटन व्यवसाय शाखा ‘ग्रुपो डी टूरिज्मो गेविओटा एसए’ के पास है. कंपनी ने कहा कि वह विस्फोट के कारणों की जांच कर रही है हालांकि, उसने इस पुनरुद्धार और वहां चल रहे कार्य के बारे में एसोसिएटेड प्रेस द्वारा ई-मेल से पूछे गए सवाल का जवाब नहीं दिया.

साराटोगा होटल का इस्तेमाल अक्सर अति विशिष्ट लोगों और राजनीतिक हस्तियों द्वारा किया जाता रहा है, जिसमें अमेरिकी सरकार के उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी शामिल हैं. 2013 में क्यूबा की यात्रा के दौरान गायिका बेयोंसे और जे-जेड वहां रुके थे. फोटोग्राफर माइकल फिगुएरोआ के अनुसार, वह होटल के पास से गुजर रहे थे, तभी विस्फोट हुआ. उन्होंने कहा, ‘‘विस्फोट ने मुझे जमीन पर गिरा दिया और मेरे सिर में अब भी दर्द हो रहा है… सब कुछ बहुत त्वरित था.’’ दोपहर में होटल में काम कर रहे लोगों के ंिचतित रिश्तेदार उनकी तलाश के लिए एक अस्पताल पहुंचे.

होटल के पास रहने वाली यजीरा डे ला कैरिडैड ने कहा, ‘‘विस्फोट से पूरी इमारत हिल गई. मुझे लगा कि यह भूकंप है.’’ इस बीच, मैक्सिको के राष्ट्रपति एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर शनिवार देर रात हवाना पहुंचने वाले हैं. मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो एब्रार्ड ने स्पष्ट किया कि ओब्रेडोर के यात्रा कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button