पाकिस्तानी छात्रों का पहला जत्था चीन पहुंचा, भारतीय छात्रों की वापसी पर चीन की चुप्पी

बीजिंग. कोविड-19 महामारी के प्रसार पर रोक के उद्देश्य से चीन द्वारा लगाये गए सख्त वीजा प्रतिबंधों के कारण लगभग दो साल से पाकिस्तान में फंसे पाकिस्तानी छात्रों का पहला जत्था चीनी शहर शियान आ गया है. हालांकि चीन ने बार-बार आश्वासन के बावजूद भारतीय छात्रों की वापसी को अनुमति देने की योजना की अभी तक घोषणा नहीं की है.

पाकिस्तान की सरकारी समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस आॅफ पाकिस्तान (एपीपी) ने बताया कि 90 पाकिस्तानी छात्रों को लेकर एक विमान सोमवार को शियान पहुंचा. 14 दिनों के पृथकवास से गुजरने के बाद वे अलग-अलग शहरों में अपने-अपने विश्वविद्यालय जाएंगे.

चीन ने अभ्यावेदनों के बाद 250 पाकिस्तानी छात्रों को वापस आने की अनुमति देने पर सहमति व्यक्त की थी. खबर में कहा गया है कि अभी भी 6,000 पाकिस्तानी छात्र हैं जो अपनी पढ़ाई के लिए चीन वापस आने का इरादा रखते हैं. अनुमानों के अनुसार, लगभग 28,000 पाकिस्तानी छात्र चीन में पढ़ते हैं और उनमें से अधिकांश 2020 में वुहान में कोविड-19 के प्रकोप के दौरान स्वदेश लौट गए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button