ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती देने में गौठानों की अहम भूमिका : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर. मोपका कॉलेज का नामकरण स्वर्गीय रामनाथ वर्मा एवं ग्राम तिल्दाबांधा में पेयजल के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की घोषणा मुख्यमंत्री शामिल हुए बलौदाबाजार में आयोजित मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के सम्मेलन में

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती देने में गौठानों की महत्वपूर्ण भूमिका है. उन्होंने कहा कि गौठानों को ग्रामीण आजीविका के केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है. छत्तीसगढ़ की कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था के अनुरूप राज्य के अन्नदाताओं की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने विभिन्न योजनाएं क्रियान्वित की जा रही है. बघेल आज बलौदाबाजार-भाटापारा के जिला मुख्यालय में आयोजित बलौदाबाजार राज कुर्मी क्षत्रिय समाज के अधिवेशन में को सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने इस मौके पर मोपका कॉलेज का नामकरण स्वर्गीय रामनाथ वर्मा के नाम पर करने और ग्राम तिल्दाबांधा में पेयजल के लिए अतिरिक्त व्यवस्था घोषणा की. कार्यक्रम में उन्होंने 23 प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को समाज की ओर से सम्मानित भी किया. इस दौरान उन्होंने पुष्पा वर्मा द्वारा लिखित चित्रोत्पला प्रेमदीप पुस्तक का भी विमोचन किया.

मुख्यमंत्री बघेल ने अधिवेशन को सम्बोधित करते हुए कहा कि कुर्मी समाज प्रगतिशील समाज है. समाज मंे व्याप्त विभिन्न विसंगतियों को दूर करने सार्थक कदम उठाए जा रहे हैं. किसी भी समाज में परिवर्तन के लिए शिक्षा बहुत आवश्यक है. बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा प्रदान करने में राज्य में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोले गए हैं. हमें केवल सरकारी नौकरी में ध्यान नहीं देना है,व्यवसाय के तरफ लोगों को बढ़ाना है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार छत्तीसगढ़िया के अस्मिता को जगाने एवं छत्तीसगढी संस्कृति को बचाने लगातार कार्य कर रही है. स्थानीय तीज त्योहार और खान-पान बढ़ावा दिया जा रहा है, जिससे लोगों में गर्व की अनुभूति हो.

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में नई सरकार के गठन के बाद धान खरीदी की मात्रा और किसानों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है. वर्तमान में खेती के रकबा में वृद्धि हुआ है और इसके प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है. राज्य में गोधन योजना से रोजगार और आय के नए स्रोत प्रारंभ हुए हैं. जिसके पास पहले कोई रोजगार नहीं होता था. वे भी गोबर बेचकर लाभ कमा रहे हैं. बघेल ने कहा कि गांव की परंपरा को पुनर्जीवित करने का काम सरकार द्वारा किया जा रहा है.

योजनाओं को चलाने के लिए सभी की भागीदारी जरूरी है. उन्होंने कहा कि सभी गौठानों में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क बनाया जाएगा गांधी जी के सपनों को साकार करने की दिशा में सरकार निरंतर कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि गौठान को हम केवल गाय-बैल को एकत्र कर रखने का केवल ठौर हीं नहीं बल्कि इसे ग्रामीण आजीविका के महत्वपूर्ण केन्द्र के रूप में विकसित कर रहे हैं. स्थानीय महिलाएं वर्मी कम्पोस्ट के साथ ही धूप,अगरबत्ती सहित स्थानीय जरूरत की तमाम चीजें तैयार कर रही हैं. खाली पड़े जमीन पर साग-सब्जी उपजा कर अतिरिक्त आमदनी भी अर्जित कर रहे हैं. सम्मेलन की अध्यक्षता कुर्मी समाज के केन्द्रीय अध्यक्ष चोवाराम वर्मा ने की. उन्होंने सम्मलेन को सम्बोधित करते हुए कहा कि ग्राम स्वराज के गांधी जी के सपने को मुख्यमंत्री बघेल आगे बढ़ा रहे हैं.

इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा,संसदीय सचिव एवं विधायक चंद्रदेव राय,शकुन्तला साहू,जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश वर्मा,पाठ्य पुस्तक निगम अध्यक्ष शैलेष नितिन त्रिवेदी,छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरिश देवांगन,पूर्व विधायक जनकराम वर्मा सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण और कुर्मी समाज के राजप्रधान और पदाधिकारी व सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button