मुझे लीक से हटकर चलना पसंद है : अजय देवगन

मुंबई. अभिनेता अजय देवगन का कहना है कि अभिनय हो या निर्देशन, उन्हें लीक से हटकर चलना पसंद है क्योंकि उनका मानना है कि सिनेमा में कुछ नया करने के लिए प्रयास करना अच्छा है. अभिनेता 2008 में आई ‘यू मी और हम और 2016 में ‘शिवाय’ के बाद तीसरी बार ‘रनवे 34’ के साथ अपने पहले जुनून, निर्देशन में लौट रहे हैं. ‘रनवे 34’ में देवगन एक विलक्षण पायलट के रूप में भी दिखेंगे, जिसका विमान एक अंतरराष्ट्रीय गंतव्य से उड़ान भरने के बाद एक रहस्यमयी रास्ता तय करता है.

अभिनेता (53) ने कहा कि उनका चरित्र, कप्तान विक्रांत खन्ना एक आत्मविश्वासी व्यक्ति है, जो उनके खुद के व्यक्तित्व के समान है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं चरित्र से प्यार करता हूं, वह नियम तोड़ना पसंद करता है लेकिन ऐसा कुछ भी गलत नहीं करेगा जिससे किसी को नुकसान पहुंचे.’’ देवगन ने एक साक्षात्कार में पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ मुझे लीक से हटकर चलना पसंद है. अपनी फिल्मों की तरह, मैं कुछ नियम तोड़ता रहता हूं, चाहे वह कहानी कहने का अंदाज हो या तकनीक की बात हो या कुछ और. कुछ नया करने की कोशिश करना और लोगों को कुछ अलग पेश करना अच्छी बात है. मैं हमेशा वही करता हूं जो मुझे पसंद है.’’

ऐसी खबरें हैं कि ‘रनवे 34’ 2015 के जेट एयरवेज दोहा-कोच्चि उड़ान घटना से प्रेरित है . इस बारे में पूछे जाने पर, अभिनेता ने कहा, ‘‘यह एक सच्ची घटना पर आधारित है लेकिन कुछ चीजें हैं जिन्हें हमने नाटकीय रूप से प्रस्तुत किया है.’’ निर्देशन हमेशा देवगन का पहला प्यार रहा है क्योंकि उन्हें अपने पिता वीरू देवगन, जो ंिहदी सिनेमा में एक लोकप्रिय एक्शन निर्देशक थे, को देखने के बाद कैमरा और निर्देशन में रुचि विकसित हुई. हालांकि, उन्होंने इसके बजाय ‘फूल और कांटे’ में मुख्य भूमिका के साथ फिल्मों में कदम रखा. यह फिल्म एक बड़ी हिट रही और इसने देवगन के करियर की दिशा बदल दी.

अपनी पहली फिल्म से पहले अभिनेता ने एक सहायक निर्देशक के रूप में शुरुआत की और अक्सर संपादन में अपने पिता की मदद करते थे. अभिनेता ने कहा, ‘‘मुझे याद है, मैं अचानक अभिनेता बन गया. मुझे वास्तव में कैमरे के पीछे रहने का अनुभव था. उस समय सीजीआई नहीं था, लेकिन यह सब कैमरा ट्रिक्स के बारे में था. मेरे पिताजी वास्तव में इसमें महारथी थे. तकनीक ने मुझे आर्किषत किया.’’ देवगन ने कहा कि वह फिल्म निर्माता शेखर कपूर के कई विज्ञापन फिल्मों और यहां तक कि 1995 की फिल्म ‘दुश्मनी’ में भी कुछ हद तक सहायक रहे. ‘रनवे 34’ 29 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है .

फिल्म में अमिताभ बच्चन, रकुल प्रीत ंिसह और अंगिरा धर भी हैं. अभिनेता ने कहा, ‘‘मैं उनका (बच्चन का) बहुत आभारी हूं कि उन्होंने हां कहा. हम दोनों के बीच बहुत अच्छा तालमेल है. मैं उन्हें बचपन से जानता हूं, उन्होंने मुझे बड़ा होते देखा है, फिर हमने साथ काम किया, हमारे बीच एक खास तरह की समझ है. वह जानते हैं कि मैं बतौर निर्देशक चीजों को मैनेज कर सकता हूं.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

हर घर तिरंगा अभियान


This will close in 10 seconds