भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों के लिये 18 सदस्यीय महिला हॉकी टीम चुनी, रानी रामपाल फिर बाहर

नयी दिल्ली. भारत ने आगामी राष्ट्रमंडल खेलों के लिये गुरूवार को 18 सदस्यीय महिला हॉकी टीम का चयन किया जिसमें फिर से स्टार स्ट्राइकर रानी रामपाल को बाहर रखा गया है क्योंकि वह चोट के बाद पूर्ण फिटनेस हासिल नहीं कर पायी हैं. राष्ट्रमंडल खेलों की टीम अगले महीने विश्व कप में हिस्सा लेने वाली टीम के समान ही है.

गोलकीपर सविता पूनिया टीम की कप्तान होंगी जबकि अनुभवी डिफेंडर दीप ग्रेस एक्का 28 जुलाई से आठ अगस्त तक चलने वाले र्बिमंघम राष्ट्रमंडल खेलों में उप कप्तान की जिम्मेदारी संभालेंगी. दोनों खिलाड़ी विश्व कप में भी यही भूमिका निभायेंगी जिसकी सह मेजबानी एक से 17 जुलाई तक नीदरलैंड और स्पेन कर रहे हैं.

राष्ट्रमंडल खेलों की टीम के लिये विश्व कप टीम में सिर्फ तीन बदलाव किये गये हैं. रजनी इतिमार्पू को बीचू देवी खरीबाम की जगह दूसरी गोलकीपर के तौर पर रखा गया है जबकि विश्व कप टीम सदस्य सोनिका (मिडफील्डर) को राष्ट्रमंडल खेलों की टीम में शामिल नहीं किया गया है. फॉरवर्ड संगीता कुमारी को विश्व कप के लिये स्थानापन्न खिलाड़ियों में से एक चुना गया था लेकिन वह राष्ट्रमंडल खेलों की टीम में पूर्ण सदस्य के तौर पर शामिल हैं.

भारत को पूल ए में इंग्लैंड, कनाडा, वेल्स और घाना के साथ रखा गया है. भारत अपने अभियान की शुरूआत 28 जुलाई को घाना के खिलाफ करेगा. भारतीय महिला टीम को अपनी अगुआई में तोक्यो ओलंपिक में ऐतिहासिक चौथे स्थान पर पहुंचाने वाली रानी को हैमस्ट्रिंग चोट से उबरने के बाद बेल्जियम और नीदरलैंड के खिलाफ हालिया एफआईएच प्रो लीग मैचों के लिये चुना गया था. वह प्रो लीग के यूरोपीय चरण के पहले चार मैचों में नहीं खेली थीं जिससे उनकी फिटनेस को लेकर संदेह होने लगा. आखिर में वह विश्व कप की टीम में अपना स्थान गंवा बैठी.

गोल्ड कोस्ट 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में भारत कांस्य पदक के मैच में इंग्लैंड से हारकर चौथे स्थान पर रहा था. हालांकि अपने पहले एफआईएच प्रो लीग में शानदार अभियान के बाद भारतीय टीम अब र्बिमंघम में पोडियम स्थान हासिल करने की कोशिश में जुटी है. टीम एफआईएच प्रो लीग में अर्जेंटीना और नीदरलैंड के बाद तीसरे स्थान पर रही थी.

टीम चयन के बारे में बात करते हुए मुख्य कोच यानेके शॉपमैन ने कहा, ‘‘हमने राष्ट्रमंडल खेलों के लिये अनुभवी टीम का चयन किया है और खिलाड़ियों का मानना हे कि इस बार उनके पास एक पदक जीतने का अच्छा मौका है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘एफआईएच प्रो लीग के मैचों में शानदार प्रदर्शन के बाद टीम आत्मविश्वास से भरी है और भली भांति समझती है कि उनसे काफी अधिक उम्मीदें लगी हैं. ’’

शॉपमैन ने कहा, ‘‘हम अपना विश्व कप अभियान राष्ट्रमंडल खेलों से कुछ दिन पहले ही खत्म करेंगे तो हमारे लिये शारीरिक रूप से फिट टीम का चयन करना जरूरी था क्योंकि दोनों टूर्नामेंट के बीच उबरने का समय केवल 10 दिन का ही है. ’’ राष्ट्रमंडल खेलों के लिये भारतीय महिला हॉकी टीम : गोलकीपर : सविता (कप्तान), रजनी इतिमार्पू डिफेंडर : दीप ग्रेस एक्का (उप कप्तान), गुरजीत कौर, निक्की प्रधान, उदिता मिडफील्डर : निशा, सुशीला चानू, पुखराम्बाम, मोनिका, नेहा, ज्योति, नवजोत कौर, सलीमा टेटे फॉरवर्ड : वंदना कटारिया, लालरेमसियामी, नवनीत कौर, र्शिमला देवी और संगीता कुमारी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button