IPL 2022: मार्श और वार्नर चमके, दिल्ली कैपिटल्स ने राजस्थान रॉयल्स को आठ विकेट से हराया

नवी मुंबई. दिल्ली कैपिटल्स ने मिशेल मार्श (89 रन) और सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (नाबाद 52) के अर्धशतकों तथा दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिये 144 रन की साझेदारी से बुधवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में राजस्थान रॉयल्स को 11 गेंद रहते आठ विकेट से हराकर अपनी प्लेआॅफ की उम्मीद को जीवंत रखा।

दिल्ली कैपिटल्स के लिये मार्श ने 62 गेंद की पारी में सात छक्के और पांच चौके जमाये जबकि वार्नर ने 41 गेंद में पांच चौके और एक छक्का जड़ा। आस्ट्रेलियाई जोड़ी ने दूसरे विकेट के लिये 101 गेंद में 144 रन जोड़कर टीम को छठी जीत दिलायी। दिल्ली कैपिटल्स ने इस जीत से महत्वपूर्ण दो अंक अपने खाते में डाले जिससे टीम तालिका में 12 मैचों में 12 अंक लेकर पांचवें स्थान पर पहुंच गयी है। राजस्थान रॉयल्स 14 अंक से तीसरे स्थान पर बरकरार है।

अपने स्टार बल्लेबाज जोस बटलर का विकेट शुरू में गंवाने वाली राजस्थान रॉयल्स ने भारतीय आलराउंडर रविचंद्रन अश्विन (50 रन) के अर्धशतक और देवदत्त पडीक्कल के 48 रन की मदद से छह विकेट पर 160 रन का स्कोर खड़ा किया। मार्श के आईपीएल के पहले अर्धशतक से दिल्ली कैपिटल्स ने 18.1 ओवर में दो विकेट पर 161 रन बनाये। दिल्ली कैपिटल्स को हालांकि पहला झटका पहले ही ओवर में श्रीकर भरत के रूप में लगा जब टीम का खाता भी नहीं खुला था। वह ट्रेंट बोल्ट (चार ओवर में 32 रन देकर एक विकेट) पर बल्ला छुआकर विकेटकीपर को कैच दे बैठे।

पर वार्नर और मार्श ने संभलकर खेलने की रणनीति अपनायी। सातवें ओवर में मार्श ने कुलदीप सेन पर दो छक्के जड़कर शुरूआत की।
युजवेंद्र चहल (चार ओवर में 43 रन देकर एक विकेट) नौंवे ओवर में गेंदबाजी करने उतरे जिसमें वार्नर ने दूसरी गेंद पर डीप मिडविकेट पर छक्का जड़ा। अगली गेंद को भी लांग आॅफ पर उठा दिया और बटलर डाइव करके कैच लकपने बढ़े, पर गेंद छिटक गयी और मौका उनके हाथ से निकल गया। अंतिम गेंद स्टंप पर लगी और लाइट भी जली, पर गिल्लियां अडिग रहीं जिससे वार्नर नाबाद रहे।

दिल्ली कैपिटल्स का 10 ओवर बाद स्कोर एक विकेट पर 74 रन था जिसके बाद मार्श ने चहल पर छक्का जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया। मार्श तेजी से रन जुटाते रहे लेकिन 18वें ओवर में चहल की गेंद का शिकार बने। हालांकि तब तक टीम जीत के करीब थी। कप्तान ऋषभ पंत (नाबाद 13 रन) ने फिर वार्नर के साथ जीत की औपचारिकता पूरी की।

इससे पहले राजस्थान रॉयल्स की पारी में अश्विन (38 गेंद, चार चौके, दो छक्के) और पडीक्कल (30 गेंद, छह चौके, दो छक्के) के अलावा केवल यशस्वी जायसवाल (19) और रासी वान डर दुसेन (नाबाद 12) ही दोहरे अंक तक पहुंच सके। दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाजों ने कसी गेंदबाजी करते हुए लगातार अंतराल पर विकेट चटकाकर राजस्थान रॉयल्स को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया। दिल्ली के लिये एनरिक नोर्किया, मिशेल मार्श और चेतन सकारिया ने दो दो विकेट चटकाये।

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद राजस्थान रॉयल्स की शुरूआत धीमी रही और फिर उसने बटलर (07) का विकेट तीसरे ही ओवर में गंवा दिया जो चेतन सकारिया की गेंद को टाइम नहीं कर सके और शार्दुल ठाकुर को कैच देकर पवेलियन पहुंचे। टीम ने दिलचस्प फैसला किया और अपने आॅफ स्पिनर अश्विन को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतारा। टीम की नयी रणनीति पर अश्विन भी खरे उतरे। उन्होंने आईपीएल में अपना पहला अर्धशतक जमाया जो इस लीग में उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी था। यह टी20 में उनका पहला पचासा था जिससे उन्होंने खेल के हर प्रारूप में अर्धशतक जड़ दिया है।

अश्विन ने ठाकुर के पहले और टीम के पांचवें ओवर में लेग साइड और कवर्स पर दो चौके जमाये। फिर उन्होंने अगले ही ओवर में अक्षर पटेल पर चौका और फिर लांग आन पर छक्के से दो शॉट लगाये। इस तरह पावरप्ले में टीम का स्कोर एक विकेट पर 43 रन था। यशस्वी जायसवाल (19 गेंद में, एक चौका, एक छक्का) से टीम को उम्मीद बंधी थी लेकिन वह पिछले मैच जैसा प्रदर्शन नहीं दोहरा सके और नौंवे ओवर में मिशेल मार्श का शिकार बने। दिल्ली को 54 रन पर दूसरा विकेट मिला।

अब पडीक्कल क्रीज पर थे जिन्होंने आते ही इसी ओवर में दो चौके जमा दिये। अश्विन और पडीक्कल ने शुरूआती झटकों से टीम को अच्छी तरह उबारा। अश्विन ने 12वें ओवर में कुलदीप यादव (तीन ओवर में 20 रन कोई विकेट नहीं) के सिर के ऊपर से एक शानदार छक्का जड़ा और अपने अर्धशतक के करीब पहुंचे। अगले ओवर में पडीक्कल डी बैकवर्ड प्वाइंट और लांग आन पर दो गगनदायी छक्के लगाये, जिनकी टीम को काफी जरूरत थी।

अश्विन ने 14वें ओवर में सकारिया पर विकेटकीपर के ऊपर से अपरकट से चौका लगाया और टी20 में 48 रन से अपने सर्वाधिक आईपीएल स्कोर पर पहुंच गये। फिर उन्होंने दो रन और बनाकर इसी ओवर में टी20 में अपना पहला अर्धशतक जमाया। हालांकि अगले ओवर की पहली गेंद पर अश्विन आउट होने वाले तीसरे खिलाड़ी बने। मार्श की गेंद को टाइम नहीं कर सके और डेविड वार्नर को कैच दे बैठे। कप्तान संजू सैमसन पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे। पडीक्कल ने लगातार दो चौके से स्कोर बढ़ाया जिससे 15वें ओवर के बाद टीम का स्कोर तीन विकेट पर 116 रन था। सैमसन (06) के बाद रियान पराग भी जल्द ही पवेलियन लौट गये।
टीम ने अंतिम पांच ओवर में तीन विकेट गंवाये और केवल 44 रन ही जोड़ सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button