टाइम मैगजीन की 100 प्रभावशाली कंपनियों की सूची में जियो प्लेटफार्म्स, बायजू शामिल

नयी दिल्ली. टाइम मैगजीन की दुनिया की 100 सर्वाधिक प्रभावशाली कंपनियों की पहली सूची में दो भारतीय कंपनियां रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. की प्रौद्योगिकी इकाई जियो प्लेटफॉर्म्स और आॅनलाइन शिक्षा देने वाली स्टार्टअप बायजू ने जगह बनायी है.

टाइम ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि कुछ कंपनियां भविष्य को आकार दे रही हैं और वे पहली बार तैयार 100 सर्वाधिक प्रभावशील कंपनियों की सूची के केंद्र में हैं. इन कंपनियों की सूची तैयार करने के लिये टाइम ने स्वास्थ्य, मनोरंजन, परिवहन, प्रौद्योगिकी समेत विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाली कंपनियों से आवेदन मंगाये. उसके बाद उनकी प्रासंगिकता, प्रभाव, नवप्रवर्तन, लक्ष्य और सफलता समेत महत्वपूर्ण एक-एक कारकों का आकलन किया गया.

टाइम मैगजीन के अनुसार, ‘‘इसके परिणामस्वरूप विभिन्न क्षेत्रों में प्रभावकारी कार्य करने वाली कंपनियों की सूची तैयार हुई. इसमें पुनर्चक्रण के लिये प्रौद्योगिकी स्टार्टअप से लेकर भविष्य की मुद्रा को रूप दे रही क्रिप्टोकरेंसी कंपनी से लेकर कल और आज के टीके बना रही दवा कंपनियों को शामिल किया गया है. ये कंपनियां और इनकी अगुवाई कर रहे प्रमुख भविष्य का रास्ता तैयार करने में मदद कर रही हैं.’’ सूची में जियो प्लेटफार्म्स को नवप्रवर्तकों की सूची में रखा गया है. इसी श्रेणी में जूम, एडिडास, टिक टॉक, आइकिया, मोडर्ना और नेटफ्लिक्स जैसी क कंपनियां भी हैं.

टाइम के अनुसार, ‘‘पिछले कुछ साल में मुंबई का औद्योगिक समूह रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भारत का सबसे बड़ा 4जी नेटवर्क तैयार किया है. कंपनी दुनिया के विभिन्न देशों के मुकाबले डेटा के लिये दर सबसे कम ले रही है (एक जीबी के लिये 5 सेंट्स (लगभग साढे तीन रुपया) से भी कम).’’

उसने कहा, ‘‘‘‘दुनिया भर के निवेशक रिलायंस इंडस्ट्रीज की डिजिटल कंपनी जियो प्लेफॉर्म्स में निवेश करने के लिए तैयार खड़े हैं. वे रिलायंस जियो के 41 करोड़ उपभोक्ताओं तक पहुंच बनाने की कोशिश कर रहे हैं.’’

इन निवेशकों में फेसबुक, गूगल जैसी कंपनियां शामिल हैं. जियो प्लेटफॉर्म्स फेसबुक के साथ मिलकर व्हाट्सएप-आधारित एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म विकसित कर रही है. वहीं किफायती 5जी स्मार्टफोन बनाने के लिए रिलायंस जियो गूगल के साथ काम कर रही है.’’ सूची में ई-शिक्षा स्टार्टअप बायजू को टेसला, हुआवेई आदि जैसी कंपनियों के साथ रखा गया है.

टाइम के अनुसार, ‘‘बायजू के संस्थापक बायजू रवीन्द्रन को पता है कि किसी समय कदम आगे बढ़ाना है. कंपनी के ऐप के उपयोगकर्ताओं की कोविड-19 महामारी के दौरान करीब दोगुनी 8 करोड़ पहुंच गयी. वह फिलहाल क्षेत्र में निवेश कर रहे हैं और इसके लिये उन्हें टेनसेन्ट और ब्लैकरॉक जैसे निवेशकों से वित्त पोषण प्राप्त हुआ है.’’

उसने कहा, ‘‘शानदार वृद्धि के कारण बायजू भारत का सबसे आकर्षक स्टार्टअप में से एक बन गया है. कंपनी का मूल्य जुलाई 2019 में 5.5 अरब डॉलर था जो अब बढ़कर करीब 15 अरब डॉलर पहुंच गया है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close