कांग्रेस के प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली में कई सड़कें बंद, यातायात प्रभावित

नयी दिल्ली. सेना में भर्ती संबंधी केंद्र की नई योजना ‘अग्निपथ’ के विरोध में और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ कथित ‘‘प्रतिशोध की राजनीति’’ को लेकर पार्टी के विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर सोमवार को यातायात पुलिस ने दिल्ली में कई मार्ग बंद कर दिए जिसके कारण राष्ट्रीय राजधानी में कई स्थानों पर यातायात बाधित हुआ।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) समाचार पत्र नेशनल हेराल्ड धन शोधन मामले में गांधी से पूछताछ कर रहा है और सोमवार को चौथी बार वह एजेंसी के सामने पेश होंगे। दिल्ली-नोएडा-दिल्ली फ्लाईवे, मेरठ एक्सप्रेस-वे, आनंद विहार, सराय काले खां, प्रगति मैदान और दिल्ली के अन्य हिस्सों में सुबह भारी जाम रहा। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया मंच ट्विटर पर इसकी जानकारी दी।

एक व्यक्ति ने बताया कि वह लगभग 30 मिनट तक जमा में फंसे हैं और कार्यालय पहुंचने में उन्हें काफी देर हो रही है। वहीं, एक अन्य ने लोगों से आनंद विहार-सराय काले खां मार्ग पर जाने से बचने को कहा। हालांकि, दिल्ली यातायात पुलिस ने कहा कि यातायात का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के लिए टीमों को विभिन्न स्थानों पर तैनात किया गया है।

दिल्ली यातायात पुलिस ने इससे पहले सिलसिलेवार ट्वीट में लोगों को उन रास्तों की जानकारी दी, जो बंद रहेंगे। यातायात पुलिस ने कहा कि विशेष यातायात व्यवस्था के कारण, नई दिल्ली में गोल डाक खाना जंक्शन, पटेल चौक, ंिवडसर प्लेस, तीन मूर्ति चौक और पृथ्वीराज रोड से आगे बसों की आवाजाही बंद रहेगी।

उसने कहा, ‘‘कृपया सुबह आठ बजे से दोपहर 12 बजे के बीच गोल मेथी जंक्शन, तुगलक रोड जंक्शन, क्लेरिजेस जंक्शन, क्यू-प्वाइंट जंक्शन, सुनहरी मस्जिद जंक्शन, मौलाना आजÞाद रोड जंक्शन और मान ंिसह रोड जंक्शन की ओर से जाने से बचें।’’ यातायात पुलिस ने यात्रियों को मोतीलाल नेहरू मार्ग, अकबर रोड, जनपथ और मान ंिसह रोड से भी सुबह आठ बजे से दोपहर 12 बजे के बीच जाने से बचने की सलाह दी है।

गौरतलब है कि ईडी धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की धाराओं के तहत राहुल गांधी से पूछताछ कर रही है। वहीं, सेना में भर्ती संबंधी केंद्र की नई ‘अग्निपथ’ योजना को लेकर देश के विभिन्न हिस्सों से प्रदर्शन और ंिहसा की घटनाएं सामने आई हैं। इस नई योजना के तहत थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती चार साल के लिए संविदा आधार पर की जाएगी और इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा। कांग्रेस ने दावा किया है कि यह योजना ‘‘युवा विरोधी’’ है और सेना को ‘‘बर्बाद’’ करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button